मधुबनी। प्रखंड स्तरीय मत्स्यजीवी सहयोग समिति लिमिटेड के चुनाव में महिलाओं के लिए अधिकतम 50 फीसद आरक्षण का प्रावधान किया गया है। इस संबंध में बिहार राज्य निर्वाचन प्राधिकार के मुख्य चुनाव पदाधिकारी फूल ¨सह ने सूबे के सभी जिला सहकारिता पदाधिकारी के नाम पत्र जारी कर दिया है। इस पत्र में यह स्पष्ट कर दिया गया है कि अध्यक्ष एवं सचिव के पद को छोड़कर कुल संख्या के अधिकतम 50 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए आरक्षित रहेगा। महिला सदस्य नहीं होने की स्थिति में पद रिक्त रखा जाएगा। इस पत्र में यह भी स्पष्ट कर दिया गया है कि मत्स्यजीवी सहयोग समिति में प्रबंधकारिणी समिति के 11 सदस्यों में से पांच पद महिलाओं के लिए आरक्षित रहेगा। हालांकि अध्यक्ष एवं सचिव पद को आरक्षण से मुक्त रखा गया है। वहीं दूसरी ओर बिहार राज्य निर्वाचन प्राधिकार के उप सचिव राज किशोर प्रसाद ने हरलाखी प्रखंड मत्स्यजीवी सहयोग समिति लि. की मतदाता सूची से उन 127 व्यक्तियों का नाम विलोपित करने का आदेश जारी किया है, जिन्हें अनियमित तरीके से उक्त समिति की सदस्यता प्रदान की गई है। इस बाबत जारी आदेश में प्राधिकार के उप सचिव राज किशोर प्रसाद ने उल्लेख किया है कि प्रमोद मुखिया एवं अन्य हरलाखी प्रखंड मत्स्यजीवी सहयोग समिति लि. द्वारा प्राधिकार के समक्ष यह शिकायत की है कि उक्त समिति की मतदाता सूची में गलत तरीके से बीडीओ सह निर्वाची पदाधिकारी, हरलाखी द्वारा 127 व्यक्तियों का नाम जोड़ दिया गया है। इस शिकायत की जांच प्राधिकार द्वारा जिला सहकारिता पदाधिकारी, मधुबनी से कराई गई। जांच के उपरांत जिला सहकारिता पदाधिकारी ने प्रतिवेदित किया कि बीडीओ हरलाखी द्वारा हरलाखी प्रखंड मत्स्यजीवी सहयोग समिति लि. की मतदाता सूची में बतौर सदस्य जोड़े गए नए 127 नाम अवैध है एवं इन नामों को मतदाता सूची से विलोपित किया जाए। इसी आलोक में प्राधिकार द्वारा अवैध रुप से जोड़े गए 127 नए सदस्यों के नाम को हरलाखी प्रखंड मत्स्यजीवी सहयोग समिति की मतदाता सूची से विलोपित करने का निर्णय लिया है। साथ ही बीडीओ सह निर्वाची पदाधिकारी, हरलाखी को प्राधिकार के उप सचिव राज किशोर प्रसाद ने आदेश दिया है कि उक्त 127 व्यक्तियों का नाम मतदाता सूची से विलोपित किया जाए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप