मधेपुरा। अनुदानित दर पर धान के बीज का वितरण जिले में 25 जून तक होना है। अनुदानित दर पर धान का बीज कृषि विभाग के वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करने वाले किसानों को दिया जा रहा है। अनुदानित बीज को लेकर अभी तक कृषि विभाग के वेबसाइट पर करीब 18 हजार 122 किसानों ने आवेदन दिया है।

मालूम हो कि जिले में इस बार 75 हजार हेक्टेयर में धान की खेती करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। धान की खेती को लेकर कृषि विभाग की ओर से किसानों को अनुदानित दर पर विभिन्न किस्म के धान का बीज उपलब्ध करा रही है। कृषि विभाग से विभिन्न किस्म के धान के बीज पर 50 प्रतिशत से लेकर 80 प्रतिशत तक अनुदान दिया जा रहा है।

आवेदन के आधार पर किसानों को दिया जा रहा बीज जिले में अनुदानित दर पर धान का बीज प्राप्त करने को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों से अभी तक 18 हजार किसानों ने ऑनलाइन आवेदन किए हैं। आवेदन के आधार पर किसानों को बिहार राज्य बीज निगम से प्राप्त बीज उपलब्ध कराया जा रहा है। बीज का वितरण 25 जून तक होना है।

ऑन स्पॉट आवेदन कर पाएं बीज अनुदानित दर किसानों को बीज उपलब्ध कराने को लेकर कृषि विभाग ने कई तरह की सहूलियत प्रदान की है। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिन किसानों ने बीज को लेकर अभी तक आवेदन नहीं किया है, वे बीज विक्रेता के पास जाकर ऑन स्पॉट ऑन लाइन आवेदन करें। उन्हें तत्काल आवेदन के आधार पर ओटीपी प्राप्त होगा और बीज उपलब्ध कराया जाएगा।

1517 क्विंटल बीज होगा वितरित

जिले में धान के हाईब्रिड बीज की मांग अत्यधिक है। अधिकांश किसान अपने खेतों में हाईब्रिड धान के बीज लगाते है। कृषि विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में इस बार करीब 1517.88 क्विंटल धान का बीज मंगाया जा रहा है। अभी तत्काल 597.5 बीज उपलब्ध कराया गया है। उपलब्ध बीज किसानों के बीज वितरित किया जा रहा है। कृषि विभाग के अधिकारी के मुताबिक जिले में राज्य बीज निगम के उदाकिशुनगंज, चौसा व ग्वालपाड़ा में तीन विक्रेता है। इन्हीं विक्रेताओं के द्वारा बीज मांगा कर किसानों के बीज वितरित कराया जाएगा । किसानों को बीज उपलब्ध होने में कोई परेशानी न हो इसके लिए कृषि विभाग पूरी तत्परता के साथ काम कर रही है।

कोट जिले में 75 हजार हेक्टेयर में धान की खेती होगी। अभी तक 18 हजार 122 किसानों ने बीज के लिए आवेदन दिया है। ऑन लाइन आवेदन के आधार पर किसानों को अनुदानित दर पर बीज उपलब्ध कराया जा रहा है। -राजन बालन, जिला कृषि पदाधिकारी, मधेपुरा

Edited By: Jagran