मधेपुरा। जिलाधिकारी नवदीप शुक्ला ने जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में बंधक बनाए मजदूरों के मामले में पुलिस को तत्काल प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है। वहीं जम्मू कश्मीर के वरीय अधिकारियों से बात की। डीएम ने वहां श्रम अधीक्षक को मामले से अवगत कराते हुए बंधक बने मजदूरों को मुक्त कराने के लिए कहा। डीएम की पहल के बाद जहां इस मामले में प्रशासनिक हलचल तेज हो गई। वहीं परिजनों में आस बंधी है कि जल्द ही बंधक बने लोग मुक्त होंगे। मुरलीगंज वार्ड 9 के रहने वाले करीब डेढ़ दर्जन मजदूर बंधक बने हुए हैं। मजदूरों के परिजनों ने पुलिस प्रशासन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। परिजनों ने कहा कि पुलिस प्रशासन समय पर कार्रवाई की होती तो अब तक मजदूरों ठेकेदार के चुंगल से मुक्त हो गए रहते। परिजनों ने डीएम की पहल पर कार्रवाई होने पर संतोष जाहिर किया। इस संबंध में डीएम ने बताया कि जम्मू कश्मीर में बंधक बने मजदूर के मामले में मुरलीगंज थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है। जल्द ही मजदूरों की अपने घर वापस आने की उम्मीद है।

Posted By: Jagran