संवाद सूत्र, मधेपुरा : पंचायत चुनाव अब अंतिम चरण में है। जिले के आलमनगर प्रखंड की 11 पंचायतों में 12 दिसंबर को अंतिम चरण का मतदान होना है, लेकिन पिछले 10 चरणों में हुए मतदान व मतगणना के बाद कपितय पराजित व विजयी प्रत्याशियों ने अभी तक चुनाव के दौरान किए गए खर्च का विवरण कार्यालय में जमा नहीं किया है। चुनाव आयोग का निर्देश है कि अगर निर्वाचन संबंधी व्यय का ब्यौरा नहीं जमा किया तो संबंधित प्रत्याशियों पर कार्रवाई हो सकती है। पंचायत चुनाव में प्रत्याशी के रूप में भागीदारी निभाने वाले मुखिया, सरपंच, वार्ड सदस्य, समिति सदस्य व सरपंच के पंच को संबंधित प्रखंड में व्यय विवरणी जमा करना है जबकि जिला परिषद पद के लिए चुनाव लड़ें प्रत्याशियों को संबंधित अनुमंडल कार्यालय में व्यय विवरणी जमा करना होगा। हरेक चरण के चुनाव परिणाम की घोषणा के बाद निर्धारित तिथि को व्यय विवरणी जमा करना था, लेकिन अभी तक दर्जनों प्रत्याशियों ने व्यय विवरणी नहीं जमा किया है। प्रखंड निर्वाची पदाधिकारियों ने कहा कि अगर संबंधित प्रत्याशी प्रखंडों में व्यय विवरणी जमा नहीं करते हैं तो इसकी सूचना जिला पंचायती राज पदाधिकारी को दी जाएगी। विवरणी जमा नहीं करने वाले प्रत्याशियों पर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran