संवाद सूत्र, मधेपुरा : रेल विभाग की उदासीनता के कारण मध्य प्रदेश के रीवा से मालगाड़ी में लोड किए गए 51 हजार बोरा जेपी सिमेंट में से लगभग 2100 बोरा सिमेंट चोरी होने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। इस बावत सिमेंट व्यवसाई राजेश कुमार सिंह तथा राजीव सर्राफ ने बताया कि हमारे प्रतिष्ठान शिव इंटरप्राइजेज के नाम से सात जनवरी 2015 को मध्य प्रदेश के रीवा से 51 हजार 500 बोरा सिमेंट मालगाड़ी में लोड कर मधेपुरा भेजा गया था। मालगाड़ी रविवार को दौरम मधेपुरा रेलवे स्टेशन पहुंची। गाड़ी पहुंचते ही कर्मचारियों ने देखा की मालगाड़ी के कई वैगनों का सील टूटा हुआ है तथा उससे सिमेंट का बोरा निकला हुआ है। सूचना मिलते ही जब स्टेशन पहुंचे तो पाए कि कई वैगनों से लगभग 2100 बोरा सिमेंट गायब है। इसकी सूचना तुरंत माल बाबू तथा गार्ड को दे दी गई है।

क्या कहते है गार्ड : मालगाड़ी को लेकर मधेपुरा पहुंचे गार्ड जयप्रकाश सिंह ने बताया कि सुबह पांच बजकर 45 मिनट में मान्सी रेलवे स्टेशन पर गाड़ी मधेपुरा पहुंचाने के लिए दिया गया। उस समय गाड़ी की वैगनों को गंभीरतापूर्वक नहीं देखा। मुझे यह जानकारी नहीं है कि कहां से सिमेंट की चोरी की गई है।

उधर रेल दरोगा टीके यादव ने कहा कि चोरी की जानकारी मुझे नहीं है। मामले को लेकर शिव इंटरप्राइजेज के मालिकों ने स्टेशन प्रबंधक तथा माल बाबू के नाम आवेदन देकर मामले की जांच करने का आग्रह किया है।