लखीसराय । रेलवे बोर्ड ने रेलकर्मियों के लिए डयूटी पर आने-जाने के लिए किऊल के रास्ते तीन जोड़ी स्टाफ स्पेशल ट्रेनें चलाई है। इन स्टाफ स्पेशल ट्रेनों से बड़ी संख्या में आम यात्री भी यात्रा कर रहे हैं। मंगलवार को दानापुर-झाझा स्टाफ स्पेशल ट्रेन से कुछ आम यात्री लखीसराय स्टेशन पर उतरे एवं सवार भी हुए। इसी तरह किऊल जंक्शन पर भी सवार हुए। वर्तमान समय में आम लोगों की स्टेशन पर इंट्री बंद है। सिर्फ आरक्षित यात्री या फिर अधिकृत रेलवे स्टाफ ही स्टेशन पर इंट्री कर सकते हैं। रेलवे द्वारा दानापुर से झाझा के लिए दो जोड़ी एवं झाझा से गया के लिए एक जोड़ी स्टाफ स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही है। इससे पहले भी स्टाफ स्पेशल ट्रेनों में आम यात्री के यात्रा करने की शिकायत पर रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया था। 10 से 12 अप्रैल दो दिनों तक स्टाफ स्पेशल ट्रेनें बंद रही थी। रेलवे यूनियन के दबाव पर रेलवे ने कुछ शर्तों के साथ फिर से दोबारा ट्रेन परिचालन शुरू किया। यह स्टाफ स्पेशल ट्रेन कुछ दिनों तक तो ठीक-ठाक चली। अब फिर से आम यात्री भी स्पेशल ट्रेनों की सवारी करने लगे हैं। किऊल,लखीसराय सहित केजी एवं किऊल-झाझा सेक्शन में आम यात्री बिना रोक-टोक यात्रा कर रहे हैं। आम लोगों के यात्रा में रेलकर्मियों की भी भागीदारी हो रही है। रेलकर्मियों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए रेलवे की शर्तों के मुताबिक डयूटी पर जाने संबंधी कागजी प्रमाण के अलावा डयूटी मेमो व परिचय पत्र दिखाएंगे। फिर ट्रेन पर चढ़ने की अनुमति दी जाएगी। रेलवे इसके लिए ट्रेनों में आरपीएफ की डयूटी भी लगाई है। जिससे कि आम यात्रियों को ट्रेन पर चढ़ने से रोका जा सके। पर, सबकुछ कागजों तक सीमित है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस