संसू., पीरी बाजार (लखीसराय) : पीरी बाजार क्षेत्र के कसबा (अभयपुर) पंचायत के कसबा पूर्वी कोरियारी की मुख्य सड़क पर पृथ्वी कुमार के घर के समीप नाले का गंदा पानी बह कर फैल रहा है। इससे राहगीरों को आने-जाने में परेशानी हो रही है। यह सड़क धरहरा-कजरा मुख्य सड़क से जुड़ी हुई है। ऐसे में यह सड़क काफी महत्वपूर्ण है। महा एवं मसुदन आदि गांव के लोग इसी मार्ग से होकर पीरी बाजार के रास्ते प्रखंड मुख्यालय सूर्यगढ़ा एवं लखीसराय जाते हैं। ग्रामीणों के अनुसार अगर सड़क पर पानी की निकासी के लिए नाली का निर्माण किया जाए तो इस समस्या से निजात मिल सकती है लेकिन, जिम्मेदारों ने कभी इस ओर ध्यान नहीं दिया। सरकार की महत्वाकांक्षी सात निश्चय योजना से यहां की सूरत नहीं बदली जा सकी है। ग्रामीण मनमोहन ठाकुर, विनोद ठाकुर, पृथ्वी कुमार, जनार्दन यादव, गिरधारी मंडल आदि ने कहा कि घरों से निकलने वाले गंदे पानी का समुचित निकास नहीं होने की वजह से गंदा पानी बीच सड़क पर फैल रहा है। बावजूद जनप्रतिनिधि एवं पदाधिकारियों ने इस ओर कभी भी ध्यान नहीं दिया। ऐसे हर दिन यहां के लोगों को इस समस्या से दो-चार होना पड़ रहा है। बूढ़े एवं बच्चों के लिए परेशानी और भी बढ़ जाती है। संबंधित मामले में कसबा पंचायत के मुखिया अमित कुमार ने बताया कि पंचायत में व्याप्त समस्याओं का अवलोकन किया जा रहा है। ये समस्या भी मेरे संज्ञान में है। इसका समुचित हल करने का प्रयास किया जा रहा है।

मेदनीचौकी थाना में जनता दरबार में हुई मामले की सुनवाई

संसू., मेदनीचौकी (लखीसराय) : मेदनी चौकी थाना में शनिवार को सूर्यगढ़ा के सीओ सुमित कुमार आनंद की उपस्थिति में जनता दरबार का आयोजन हुआ। इसमें कई मामले आए। भिड़हा के रामदेव महतो एवं राजेंद्र महतो के बीच ताजपुर मौजा में जमीन विवाद की सुनवाई हुई। उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय वंशीुपर की प्रधानाध्यापिका ललिता देवी ने विद्यालय के सामने एनएच सड़क किनारे उमेश महतो की चाय दुकान को हटाने की मांग की। देवघरा के अमरविश्वनाथ मिश्रा एवं राजेन्द्र मिश्रा के बीच जमीन विवाद की सुनवाई की गई। देवघरा के ज्ञान प्रकाश एवं बच्चन साव के बीच जमीनी विवाद की सुनवाई की गई। किसनपुर के जुम्मन महतो किसनपुर एवं डीह मकससपुर की उर्मिला देवी के बीच जमीन विवाद की सुनवाई की गई। झपानी के अशोक साव एवं गिरीश साव व पप्पू साव के बीच वर्षों से चल रहे जमीन विवाद की सुनवाई की गई। जबकि सूचना के बाद भी बार-बार द्वितीय पक्ष गिरीश साव एवं पप्पू साव जनता दरबार में उपस्थित नहीं हुए। इस मौके पर जमीन विवाद से जुड़े करीब आधा दर्जन से अधिक मामलों का निबटारा किया गया। इस मौके पर थानाध्यक्ष रूबीकांत कच्छप, एसआइ विरेंद्र प्रासाद सिंह, कार्यालय सहायक देवानंद, सहायक गोविद कुमार सिंह मौजूद थे।

Edited By: Jagran