संवाद सूत्र, चानन (लखीसराय) : चानन प्रखंड क्षेत्र के विद्यालयों में पेयजल समस्या को लेकर लगातार अभियान चला रहे दैनिक जागरण की खबर का असर दिखने लगा है। 17 मई के अंक में पेयजल के अभाव में विद्यालयों में बढ़ी समस्या, एमडीएम भी बंद शीर्षक की खबर छपते ही पीएचईडी विभाग व शिक्षा विभाग में खलबली मच गई। आनन-फानन में पीएचईडी के तकनीकी दल ने मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय गुलनी पहुंचकर चापाकल की मरम्मत की और पानी चालू किया। इसके बाद शिक्षकों एवं बच्चों में खुशी देखी गई। सबने दैनिक जागरण के प्रति आभार व्यक्त किया। ----

कहते हैं संवेदक

पीएचईडी विभाग के संवेदक ने इस बाबत बताया कि दैनिक जागरण में खबर छपते ही 24 घंटे के अंदर प्राथमिक विद्यालय गुलनी के खराब चापाकल की मरम्मत करके पानी चालू किया गया है। इसके अलावा चानन प्रखंड क्षेत्र के मवि. लाखोचक, उमवि. नत्थुडीह, उमवि. हरवंशपुर, उमावि. जानकीडीह बेलदरिया, प्रावि. शाहपुर, प्रावि. मकतब घोषिकुंडी आदि विद्यालय में खराब चापाकल की मरम्मत कराई गई। उमवि. वंशीपुर, प्रावि. तुर्का सिगारपुर, प्रावि. नीमतर बिछवे, प्रावि. घोषिकुंडी मुसहरी, प्रावि. महादलित टोला सिंहचक, प्रावि. डोमटोली बन्नूबगीच-इटौन में नए चापाकल का प्रस्ताव विभाग को भेजा गया है। कुमार रजनीश, संवेदक, पीएचईडी, लखीसराय।

--- कहते हैं अधिकारी

कोरोना काल में विद्यालय बंद रहे। इस कारण अधिकांश चापाकल खराब हो गए। इधर गर्मी में भू-जलस्तर खिसकने के कारण चापाकल ने पानी देना बंद कर दिया है। शिक्षा विभाग ने इसकी सूची भी दी है। इस शिकायत पर तत्परता से काम किया जा रहा है। मुकेश कुमार मंडल, एसडीओ, पीएचईडी, लखीसराय।

Edited By: Jagran