पांच साल तक संवेदक को करना है अनुरक्षण, 4.60 लाख का है आवंटन

निर्माण के तीन साल बाद ही जर्जर हो गई है ग्रामीण सड़क, बढ़ी परेशानी संवाद सूत्र, हलसी (लखीसराय) : हलसी प्रखंड अंतर्गत ठेकही गांव जाने वाली प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत बनी सड़क जर्जर होकर जगह-जगह ध्वस्त होने के कगार पर है। सड़क निर्माण के करीब तीन साल बाद ही उक्त सड़क का दुर्दशा से इसकी गुणवत्ता को लेकर लोग सवाल खड़े कर रहे हैं। ग्रामीणों ने सड़क जर्जर होने की शिकायत कई बार पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से की है लेकिन किसी भी पदाधिकारी या जनप्रतिनिधि का ध्यान इस ओर नहीं है। जर्जर सड़क पर ग्रामीणों का परिचालन किसी दिन बड़े हादसे का गवाह बन सकता है। जानकारी के अनुसार हलसी-तरहारी पथ से ठेकही गांव तक प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना से उक्त सड़क बनी है। कुल 64 लाख के प्राक्कलन से 2.121 किलो मीटर लंबी सड़क का निर्माण कार्य 3 अक्टूबर 2009 को शुरू किया गया। कार्य स्थल पर लगे बोर्ड में अंकित जानकारी के अनुसार 29 अक्टूबर 2010 को कार्य पूर्ण कर लिया गया। इसके अलावा 5 वर्ष तक अनुरक्षण के लिए 4 लाख 60 हजार रुपये अंकित है। ग्रामीण राजू पासवान, यदुनंदन यादव सहित दर्जनों ग्रामीणों ने बताया कि सड़क निर्माण कार्य पूर्व एवं अनुरक्षण के 5 साल का समय बीत गया लेकिन सड़क की दुर्दशा के प्रति संवेदक का ध्यान नहीं है। सड़क के कालीकरण की जगह गड्ढे हैं और नुकीले पत्थर निकल गए हैं। प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रीतम आनंद ने पूछने के बाबत बताया कि संवेदक को अनुरक्षण के तहत मरम्मत कार्य के लिए कहा जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप