लखीसराय थाना क्षेत्र के पचौता गांव में 14 अक्टूबर से गायब था बच्चा

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप, पुलिस ने तीन को लिया हिरासत में संवाद सहयोगी : लखीसराय थाना क्षेत्र अंतर्गत पचौता गांव में बुधवार की सुबह एक नाले से एक मासूम बच्चे का शव मिलते ही सनसनी फैल गई। उसकी पहचान स्थानीय निवासी रवींद्र यादव के पुत्र आशीष (13 माह) के रूप में की गई। बच्चा तीन दिनों से लापता था। सूचना पर लखीसराय थाना की पुलिस ने गांव पहुंचकर मामले की जांच की। बच्चे के लापता होने की सूचना परिजनों ने 14 अक्टूबर को लखीसराय थाना पुलिस को दी थी। मृतक के परिजन द्वारा बच्चे की हत्या कर देने की शिकायत करने पर थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने कार्रवाई करते हुए कारू यादव, निरंजन कुमार एवं कुंदन कुमार को हिरासत में लिया है। एसडीपीओ रंजन कुमार ने लखीसराय थाना पहुंचकर हिरासत में लिए युवकों से पूछताछ की। मृतक मासूम का पिता रवींद्र यादव ने बताया कि उसका पुत्र आशीष 14 अक्टूबर को दिन के करीब 12 बजे मेरे घर के सामने मेरे चचेरे भाई चंदन यादव के घर में खेल रहा था। कुछ देर बाद आशीष गायब हो गया। इसके बाद काफी खोजबीन की लेकिन कुछ पता नहीं चला। इसके बाद आशीष के लापता होने की सूचना लखीसराय पुलिस को दी गई। दो दिनों से पुलिस गांव जाकर लापता आशीष की खोज कर रही थी लेकिन कुछ पता नहीं चला। आशीष के पिता रवींद्र यादव ने बताया कि बुधवार की सुबह करीब आठ बजे निरंजन कुमार एवं कुंदन कुमार ने उन्हें जानकारी दी कि आशीष का शव घर के आगे नाला में पड़ा है। रवींद्र ने आशीष की हत्या करने का आरोप लगाते हुए अपने चचेरे भाई चंदन यादव एवं उसकी मां सावित्री देवी के अलावा फुलेश्वर यादव, अरुण यादव सहित सात लोगों को आरोपित किया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि प्रथम दृष्टया पुरानी रंजिश में हत्या का मामला लगता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस