संसू., सूर्यगढ़ा (लखीसराय) : स्थानीय पीएचसी में आयोजित दो दिवसीय कन्या उत्थान योजना का शत-प्रतिशत सर्वे करने तथा लोगों तक योजना का लाभ पहुंचाने के लिए आशा कार्यकर्ताओं के दो दिवसीय प्रशिक्षण के दूसरे दिन खूब हंगामा हुआ। आशा कार्यकर्ताओं ने प्रशिक्षण का बहिष्कार कर दिया तथा ओपीडी कक्ष के समीप जमावड़ा लगाकर बैठ गई। इस दौरान अव्यवस्था को लेकर नारेबाजी भी की। आशा कार्यकर्ता संघ के जिला संरक्षक नागेश्वर यादव ने पीएचसी प्रभारी धीरेंद्र कुमार को लिखित आवेदन देकर प्रशिक्षण का बहिष्कार करने की जानकारी दी। आशा कुमारी ने बताया कि स्थानीय पीएचसी पदाधिकारी द्वारा आशा कार्यकर्ताओं के साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है। उपेक्षापूर्ण रवैया अपनाया जाता है। अपनी उपेक्षा झेलकर वे लोग कन्या उत्थान योजना का कार्य नहीं करेंगी। बताया कि समय से किए गए सर्वे कार्य, टीकाकरण एवं प्रसव जैसे कार्य के मानदेय का भुगतान नहीं किया जाता है। बार-बार अनुरोध के बाद भी टालमटोल की जाती है। जब तक मानदेय का भुगतान नहीं होगा वे लोग कार्य नहीं करेंगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप