चुहरचक गांव के पास जर्जर पुल टूटने से हो सकता है एनएच पर आवागमन बाधित

कभी भी लखीसराय सहित पूर्व बिहार के जिलों का राजधानी से हो सकता है संपर्क भंग

संसू., बड़हिया (लखीसराय) : पटना-मुंगेर एनएच 80 पर आवागमन कभी भी बाधित हो सकती है। बड़हिया नगर एवं प्रखंड क्षेत्र से गुजरने वाली मुख्य सड़क एनएच 80 पर बड़हिया नगर क्षेत्र के चुहरचक गांव स्थित लगभग 60 वर्ष पूर्व बना पुल जर्जर हो चुका है। पुल के नीचे ढलाई कई जगह से टूट गई है। इससे दुर्घटना होने की संभावना बढ़ गई है। जानकारी हो कि बड़हिया और लखीसराय के बीच आजादी के बाद ही पक्की सड़क का निर्माण कराया गया था। मार्ग में नदी तथा नालों के जल के निकास के लिए कई जगह छोटे-बड़े पुल एवं पुलिया का निर्माण कराया गया था। इन पुल-पुलिया पर से होकर प्रत्येक दिन बालू, पत्थर, कोयला आदि लदे छोटे-बड़े वाहन सहित यात्री वाहन गुजरते हैं। इस मार्ग से होकर गुजरने वाली वाहनों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। वाहनों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने इस सड़क को लगभग 15 वर्ष पूर्व नेशनल हाइवे का दर्जा देकर इसका जीर्णोद्धार कराया। जीर्णोद्धार के दौरान इन पुल-पुलिया पर ध्यान नहीं दिया गया। पुल मरम्मत के नाम पर केवल इस पर रेलिग बनाकर रंग-रोगन कर दिया जाता है। बड़े एवं मालवाहक वाहनों के गुजरने से पुल पर कंपन होने लगता है। पुल के नीचे से परत टूटकर गिर रहा है और उससे छड़ दिखाई देने लगा है। भारी वाहन पुल के ऊपर से होकर गुजरता है तो नीचे की ढलाई टूटकर गिरने लगता है। इस पर न तो एनएचएआइ की नजर है और न ही जिला प्रशासन के अधिकारियों को इससे मतलब है। मतलब साफ है कि जब जो होगा सो देखा जाएगा। समय रहते अगर इसका जीर्णोद्धार नहीं कराया गया तो एक बड़ा हादसा हो सकता है तथा एनएच 80 पर परिचालन भी बाधित हो सकता है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप