मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

लखीसराय। स्थानीय एएनएम ट्रेनिग स्कूल की एक छात्रा कविता कुमारी एवं उसके पिता विक्रांत कुमार गांधी द्वारा प्राचार्या संध्या सिंह पर लगाए गए भ्रष्टाचार एवं प्रताड़ित करने के आरोप की जांच टीम द्वारा की जा रही है। जांच के बीच में ही प्राचार्या द्वारा कविता कुमारी को तीन माह के लिए एएनएम ट्रेनिग स्कूल से निष्काषित कर मामले को नया मोड़ दे दिया है। एएनएम ट्रेनिग स्कूल की प्राचार्या के पत्रांक प्रिसिपल 07/07 दिनांक 18 अप्रैल 19 द्वारा जारी आदेश में छात्रा कविता कुमारी को 18 अप्रैल 2019 से 18 जुलाई 2019 तक एएनएम ट्रेनिग स्कूल से निष्कासित किया गया है। प्राचार्या द्वारा जारी आदेश में कहा है कि विगत कुछ माह से कविता कुमारी ने एएनएम ट्रेनिग स्कूल के माहौल को खराब कर दिया है। बार-बार आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी रखने के कारण एएनएम ट्रेनिग स्कूल एवं हॉस्टल का माहौल खराब हो गया है। बाध्य होकर इसकी सूचना पदाधिकारी को देनी पड़ी। सिविल सर्जन द्वारा उन्हें फोन से कविता कुमारी को तीन माह के लिए निष्काषित करने का आदेश दिया गया। उन्होंने यह भी कहा कि स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने भी फोन पर उन्हें कविता कुमारी को तीन माह के लिए एएनएम ट्रेनिग स्कूल से निष्कासित करने का मौखिक आदेश दिया है। विदित हो कि छात्रा कविता कुमारी एवं उसके पिता विक्रांत कुमार गांधी द्वारा एएनएम ट्रेनिग स्कूल की प्राचार्या संध्या सिंह पर आंतरिक परीक्षा में अधिक अंक देने के नाम पर छात्राओं से दो-दो हजार रुपये अवैध वसूली करने, आंतरिक परीक्षा में शामिल नहीं होने वाली छात्राओं से राशि लेकर फाइनल परीक्षा का फार्म भरवाने, अनुपस्थित रहने वाली छात्राओं से प्रतिदिन सौ रुपये लेकर उपस्थिति बनाने, वाह्य परीक्षा में सेंटर बदलवाने के नाम पर राशि की वसूली करने, इसका विरोध करने पर उसे प्रताड़ित करने एवं कुछ छात्राओं को भड़का कर उसकी हत्या कराने का प्रयास करने का आरोप लगाया गया है। जिसकी जांच अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. नलिनी कांत प्रसाद के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम कर रही है। जांच टीम में जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार भारती, डॉ. अशोक कुमार सिंह एवं डॉ. संगीता राय शामिल है। जांच टीम द्वारा दो दिनों के भीतर जांच रिपोर्ट सौंपे जाने की संभावना है। जाहिर है कि जांच को प्रभावित करने के उद्देश्य से ही जांच के दौरान छात्रा को निष्कासित किया गया है। इधर एएनएम कॉलेज की तीन ट्यूटर निशा कुमारी, मेरी सोरेन एवं आरती कुमारी ने भी तमाम संबंधित पदाधिकारियों को आवेदन देकर प्राचार्या संध्या सिंह पर भ्रष्टाचार एवं जाति सूचक शब्द कहकर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप