लखीसराय। जिले में कड़ाके की ठंड का दौर लगातार जारी है। तापमान में गिरावट के कारण जारी शीतलहर से शहर से गांव तक कोहराम मचा हुआ है। जन जीवन भी अस्त व्यक्त हो गया है। शनिवार को भी दिनभर आसमान में कोहरे की चादर फैली रही। दोपहर में लोगों को उम्मीद थी कि धूप निकलेगी लेकिन सूर्य ने लोगों को खूब दगा दिया। ठंड का कहर दोपहर में हवा के कारण कनकनी का रूप ले लिया। शाम होते ही कनकनी से लोग बेहाल हो उठे। ठंड से जिले में अबतक सात लोगों की मौत हो चुकी है। शनिवार को जिले में अधिकतम तापमान 18 डिग्री व न्यूनतम 8 डिग्री रहा। ठंड के कारण बच्चों व बुजुर्गों को सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है। रेल व सड़क मार्ग से यात्रा करने वाले लोगों की भी मुश्किलें बढ़ती जा रही है। कोहरा और ठंड के कारण लोगों की दिनचर्या भी प्रभावित है। जिला प्रशासन द्वारा जिले भर में ठंड व शीतलहर से बचने के लिए अलाव का इंतजाम किया गया है लेकिन लोग अपने से ठंड से बचने की जुगाड़ करने में लगे हैं। शहर के चौक चौराहे पर गरीब मजदूर कागज व कचरा जलाकर ठंड से बचने का प्रयास में लगे हैं। उधर पुलिस केंद्र लखीसराय में लकड़ी जलाकर पुलिस कर्मी अलाव तापते नजर आए वहीं समाहरणालय परिसर में भी पेड़ की बड़ी टहनी को जलाकर सरकारी कर्मी ठंड से बचने में लगे हैं। ग्रामीण इलाके में अब सहायता वाला अलाव नहीं पहुंच पाया है। वहां के लोग अपने भरोसे ठंड से बचने का प्रयास कर रहे हैं।

By Jagran