किशनगंज। राज्य सरकार के आदेश पर सभी जिला आपूर्ति प्रशाखा के द्वारा जनवितरण दुकान के विक्रेताओं, बुद्धिजीवियों, लाभुकों को तीन दिवसीय जागरूकता कार्यशाला का गुरुवार को नगर परिषद के भीमराव अंबेडकर टाउन हॉल में आयोजन किया गया। कार्यशाला का उदघाटन जिला आपूर्ति पदाधिकारी एवं अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। इस दौरान जनवितरण प्रणाली विक्रेता, बुद्धिजीवी एवं लाभुकों को खाद्यान वितरण को लेकर जागरूक किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हएु जिला आपूर्ति पदाधिकारी समरेंद्र कुमार ने बताया कि अब सभी जनवितरण प्रणाली दुकान में पीओएस मशीन के जरिए खाद्यान लाभुकों को दिया जा रहा है। जिले के सभी जनवितरण प्रणाली दुकान डिजिटल हो गए हैं, सभी दुकान में पीओएस मशीन लगा दिया गया है। अब एक भी लाभुक खाद्यान्न से वंचित नहीं रहेगा। यदि ऑनलाइन या नेटवर्क नहीं रहता है तो भी लाभुक दुकान से वापस नहीं जाएंगे। फिगर प्रिट या मशीन में अन्य किसी खराबी के कारण लाभुक राशन से वंचित नहीं रहेंगे। इसी शिकायत को दूर करने के लिए राज्य सरकार ने हायब्रिड मॉडल के बारे में लाभुकों, विक्रेताओं को जागरूक कर रही है।

डीएसओ ने कहा कि यदि ऑनलाइन मोड एवं नेटवर्क के नहीं रहने पर ऑफलाइन मोड में हायब्रिड मॉडल काम करता है। इस प्रणाली से डीलर लाभुक का उचित पहचान एवं अपने वितरण पंजी से मिलान के पश्चात अपने आधार नंबर से सत्यापित कर वितरित लाभुकों की सूची ऑनलाइन पोर्टल पर पीओएस मशीन के माध्यम से अपलोड करेंगे एवं अगले माह पीओएस मशीन के माध्यम से ई-केवाइसीइ कराकर संबंधितत लाभुकों को सत्यापित करेंगे। उन्होंने बताया कि लाभुकों को पीओएस मशीन की भी जानकारी देना है। उन्होंने बताया कि यह कार्यशाला प्रखंड स्तर पर भी 21 एवं 28 नवंबर को सभी प्रखंड में आयोजन किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस