किशनगंज। डीआरडीए परिसर स्थित रचना भवन में सभी अंचलाधिकारी के कार्यों, राजस्व संग्रहण, भू अर्जन एवं आपदा प्रबंधन से संबंधित कार्यों को लेकर समीक्षा बैठक हुई। आनलाइन दाखिल खारिज, भू लगान वसूली, सेस, मांग वसूली, अभियान बसेरा, बासगीत पर्चा वितरण, एलपीसी निर्गत करने की अद्यतन स्थिति, गैर मजरूआ आम, पंचायत चुनाव की तैयारी सहित कई बिन्दुओं की समीक्षा किए। समीक्षा के क्रम में डीएम डा. आदित्य प्रकाश ने पंचायत चुनाव को लेकर स्क्वाड टीम गठन करने के साथ अंचल क्षेत्र में सीमावर्ती स्थानों पर निगरानी करने का निर्देश दिए।

उन्होंने राजस्व संग्रहण कार्य के समीक्षा उपरांत राजस्व वादों के त्वरित निष्पादन करने। आनलाइन दाखिल खारिज के मामलों में पाया गया कि 83 फीसद म्यूटेशन कार्य निष्पादित हुए हैं। जिसमे टेढ़ागाछ में मात्र 68 फीसद म्यूटेशन पूर्ण हुआ है। म्यूटेशन के कार्य में अनावश्यक रूप से अस्वीकृत करने की प्रवृति सुधारने का निर्देश सभी सीओ को दिया गया। परीमार्जन पोर्टल पर डाटा एंट्री कार्य में प्रगति लाने के निर्देश देने के साथ लंबित म्यूटेशन को इस माह के अंत तक निष्पादित करने और आपरेशन अभियान बसेरा अंतर्गत पर्चा वितरण, सर्वे सूची के आधार पर भूमिहीन को जमीन बंदोबस्त पर्चा वितरण करने निर्देश सभी सीओ को दिया गया। इस दिशा में खराब प्रदर्शन वाले अंचल को निर्देश दिया गया कि डीसीएलआर से समन्वय कर आनलाइन अपलोड, एंट्री सुनिश्चित कराए। सरकारी भूमि, रैयती जमीन के अतिक्रमण को जिलाधिकारी ने गंभीरता से लेते हुए लोक भूमि अतिक्रमण अधिनियम के आलोक में सख्त कार्रवाई करें। सभी अंचल में 10 बड़े राजस्व बकायेदार और डिफाल्टर को चिन्हित कर उनके विरुद्ध अभियान चलाकर ससमय कार्रवाई करना जरूरी है। 30 सितंबर तक भू अधिग्रहण का कार्य करें पूरा वृहद परियोजनाओं के भू अर्जन अंतर्गत अररिया गलगलिया रेल लाइन के साथ इंडो नेपाल सड़क में अधिग्रहित होने वाली भूमि के निमित किए जाने वाले कार्यों में प्रगति संतोषजनक नहीं पाए जाने पर कार्यकारी एजेंसी रेलवे और अंचल अधिकारी ठाकुरगंज, दिघलबैंक और टेढ़ागांछ के कार्यों पर अप्रसन्नता व्यक्त की गई। साथ ही 30 सितंबर तक कार्य निष्पादित करने का निर्देश दिया गया। चार अक्टूबर को शिविर का आयोजन

राजस्व वसूली कार्य में तेजी लाने के साथ चार अक्टूबर को शिविर आयोजित कर संधारित राजस्व पंजी नौ व दस का मिलान करने का निर्देश सभी नीलाम पत्र पदाधिकारी को दिया गया। आपदा प्रबंधन की समीक्षा में सभी सीओ और एसडीओ के स्तर पर लंबित प्रस्ताव पर समीक्षा की गई। अनुग्रह अनुदान, अग्निकांड, बज्रपात, मकान क्षति संबंधित अभिलेख तैयार कर त्वरित निष्पादन हेतु प्रस्ताव जिला आपदा को भेजे। कोविड काल में कोरोना वायरस संक्रमण से हुए मृत्यु का सत्यापन कर अनुग्रह अनुदान का प्रस्ताव जल्द उपलब्ध करवाएं। लंबित एसी, डीसी बिल समायोजन शीघ्र करवाने को कहा गया। इस दौरान मुख्य रूप से एडीएम ब्रजेश कुमार, डीएलएओ राशिद आलम, जिला आपदा प्रबंधन प्रभारी आफाक अहमद, एसडीएम शाहनवाज अहमद नियाजी, जिला नीलाम पत्र पदाधिकारी रंजीत कुमार सहित सभी अंचल अधिकारी व राजस्व संग्रह करने वाले विभाग के अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran