किशनगंज। कोरोना काल में फर्जीवाड़ा करने वालों की भी बाढ़ सी आ गई है। समाज और देश के दुश्मन टीकाकरण के नाम पर फर्जीवाड़ा करने से बाज नहीं आ रहा है। ऐसी स्थिति में एसपी कुमार आशीष ने लोगों को जागरुक करते हुए कहा कि कोरोना का टीका जरूर लगवाएं, मगर इसके लिए पंजीकरण सरकारी पोर्टल कोविन पर ही कराएं। टीकाकरण के लिए फर्जी संदेशों पर दिए गए लिक का इस्तेमाल नहीं करें।

फर्जी कोविड-19 टीका पंजीकरण एसएमएस भेजकर उपयोगकर्ता के एंड्रॉयड फोन में सेंध लगाई जा रही है और यूजर्स के डाटा तक पहुंच बनाई जा रही है। ऐसे नुकसानदेह एसएमएस से बचना चाहिए। उपभोक्ताओं को एसएमएस के साथ एक लिक आता है जिस पर क्लिक करने से एंड्रॉयड फोन में संदिग्ध एप इंस्टॉल हो जाता है। यूजर्स को सावधान रहना चाहिए, ताकि फर्जी नाम, ई-मेल या मैसेज से आपके डाटा पर हैकर का कब्जा न हो सके। संदिग्ध एप इंस्टॉल होने के बाद अपने आप ही पीड़ित के फोन में दर्ज दूसरे फोन नंबरों पर भी यही जानकारी एसएमएस के जरिये प्रसारित हो जाती है। यह एप अनावश्यक रूप से मंजूरी हासिल करता है, जिससे साइबर हमलावर उपयोगकर्ता के डाटा जैसे फोन कॉल पर कब्जा कर सकते हैं। इससे बचने के लिए उपभोक्ता अपने फोन की सेटिग में जाकर किसी अज्ञात स्त्रोत से इंस्टॉल होने वाले एप को डिसएबल की सुविधा इस्तेमाल करें। इसके अलावा भरोसेमंद एंटी वायरस और इंटरनेट फायरवाल जैसे तरीकों का इस्तेमाल करें।

=======

लॉकडाउन का कड़ाई पालन कराएं थानाध्यक्ष

संवाद सहयोगी, किशनगंज : कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए एसपी कुमार आशीष ने सभी थानाध्यक्ष को अपने अपने क्षेत्र में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दिया है। एसपी ने बताया कि कुछ दुकानदारों के संबंध में लगातार शिकायतें मिल रही है। ग्रामीण क्षेत्र के हाट बाजारों में दुकान भी खोले जा रहे हैं। जिससे संक्रमण का खतरा मंडराने लगा है। थानाध्यक्षों को ऐसे दुकानदारों को चिन्हित कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। जिसे आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी करनी हो वो 11 बजे से पहले खरीदारी कर लें। उन्होंने कहा कि 11 बजे के बाद कोई भी सड़क पर नजर न आये। बाइक, कार आदि का परिचालन भी पूरी तरह से वर्जित है। पकड़े जाने पर सम्बंधित व्यक्ति का वाहन भी जब्त कर लिया जाएगा। साथ ही नियमानुसार जुर्माना भी लगाया जाएगा। लॉकडाउन को सख्ती से किया जाना है। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी को व्यवस्था की मॉनिटरिग करने का निर्देश दिया गया है।