किशनगंज। पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा ने जिले की लगातार बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर अधिकारियों की जमकर क्लास ली। इस दौरान एसपी ने पुलिस अधिकारियों को मद्यनिषेध कानून के साथ कोटपा कानून को कड़ाई से लागू करने और वाहन चे¨कग में तेजी लाने का भी निर्देश दिया। हालांकि कांडों के निष्पादन की स्थिति के ठीक ठाक रहने को लेकर उन्होंने संतोष भी व्यक्त किया। सोमवार को आयोजित मासिक समीक्षा बैठक के दौरान एसपी ने जिले के पुलिस पदाधिकारियों को शराबबंदी को कड़ाई से लागू करने का भी निर्देश दिया। बैठक के दौरान एसपी ने उपस्थित पुलिस पदाधिकारियों से आगामी चैती दुर्गा पूजा, छठ और रामनवमी की तैयारियों में अभी से जुट जाने का निर्देश दिया। थानाध्यक्षों को अपने-अपने थाना क्षेत्र के बीडीओ और सीओ के साथ बैठक कर सुरक्षा से संबंधित आंकलन स्वयं कर एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया । साथ ही त्योहारों के दौरान गड़बड़ी फैलाने वाले लोगों को चिह्नित कर उनके विरूद्ध 107 की कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया। एसपी ने बताया कि गत फरवरी माह में पुलिस की सतर्कता के कारण जिले में डकैती और हत्या की एक भी घटना घटित नहीं हुई। जबकि चोरी के मामलों में कमी आई है। हालांकि वाहन चोरी की घटनाओं में वृद्धि होने पर उन्होंने गहरी ¨चता व्यक्त की। एसपी ने कहा कि बताया कि कांडों के निष्पादन के मामले में टाउन थाना अव्वल रहा जबकि शेष थानों की स्थिति भी संतोषजनक रही। एसपी ने बताया कि फरवरी माह में वाहन चे¨कग की स्थिति संतोषप्रद रही। वाहन चे¨कग के दौरान पुलिस ने 8,15,150 रुपये जुर्माना वसूला। जबकि 155 वारंटों का निष्पादन किया गया। साथ ही 25 कुर्की जब्ती और 35 इस्तेहार मामलों का निष्पादन किया गया। वहीं कोटपा अधिनियम के तहत टाउन थाना द्वारा 13,600 रुपये, ठाकुरगंज थाना द्वारा 4850, टेढ़ागाछ थाना द्वारा 3000, बहादुरगंज थाना द्वारा 2100रुपये वसूले गए। परंतु कोचाधामन, सुखानी और जीयापोखर थाना सुस्ती बरते जाने के कारण थानाध्यक्ष को शो कॉज नोटिस जारी किया गया है। इस मौके पर एसडीपीओ कामिनी बाला,डीएसपी पन्ना ¨सह सहित जिले के सभी सर्किल इंस्पेक्टर व थानाध्यक्ष उपस्थित थें।

By Jagran