किशनगंज। जिले के पाठामारी थानाक्षेत्र के अंबाबाड़ी गांव में शौच के लिए घर से निकली किशोरी के साथ चाकू की नोंक पर जबरन दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। मामल का खुलासा बुधवार को उस वक्त हुआ जब पीड़िता न्याय की गुहार लेकर एसपी राजीव मिश्रा के समक्ष जा पहुंची। एसपी के निर्देश के बाद पाठामारी थानाध्यक्ष मामले की जांच में जुट गए हैं। जानकारी के अनुसार एक वर्ष पूर्व पीड़िता जब शौच के लिए घर से बाहर निकली थी तो पूर्व से घात लगाए बैठे गांव के ही जुल्फिकार पिता ताजेउद्दीन ने उसे दबोच लिया और चाकू की नोंक पर दुष्कर्म का शिकार बना लिया था। घटना के बाद जुल्फिकार ने उसे जल्द शादी कर लेने का झांसा दिया तो पीड़िता भी उसके झांसे में आ गई। दोनों समाज की नजरों से बचते बचाते मिलने लगे।नतीजतन पीड़िता के गर्भ में जुल्फिकार का बच्चा पलने लगा। इसकी जानकारी मिलते ही जुल्फिकार ने उसे धोखे में रखकर गर्भपात की दवा पिला दी। इससे पीड़िता की स्थिति काफी बिगड़ गई। इस बीच पीड़़तिा के परिजनों को भी घटना की जानकारी मिल गई। विगत दिनों जब पीड़़तिा के परिजन रिश्ते की बात करने जुल्फिकार के घर पहुंचे तो जुल्फिकार के परिजनों ने उनकी पिटाई कर भगा दिया। घटना से हैरान व परेशान पीड़़तिा इंसाफ की मांग को लेकर बुधवार को एसपी के समक्ष जा पहुंची।

कोट

पाठामारी थानाध्यक्ष को मामले की जांच कर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

राजीव मिश्रा, एसपी, किशनगंज।

By Jagran