किशनगंज। जिला में पंचायत चुनाव 20 अक्टूबर से शुरू होगा। पंचायत चुनाव के दिन मतदान केंद्र पर चुनाव बेहतर तरीके से हो। इसके लिए चुनाव डयूटी में लगाए गए पीठासीन पदाधिकारियों को इंटर हाई स्कूल और बालिका उच्च विद्यालय में दो पाली में प्रशिक्षण दिया गया। यह बातें बुधवार को मास्टर ट्रेनर नंद किशोर कुमार ने डेमार्केट स्थित इंटर हाई में प्रशिक्षण देने के उपरांत कही।

उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण दो पाली में दिया गया। प्रथम पाली का प्रशिक्षण सुबह 11 बजे से दोपहर दो बजे तक और द्वितीय पाली का प्रशिक्षण दोपहर दो बजे से लेकर चार बजे तक चला। प्रशिक्षण के दौरान पीठासीन पदाधिकारियों को उनके कर्तव्य और अधिकार के बारे में बताया गया। इसके अंतर्गत पीठासीन पदाधिकारी को मतदान केंद्र की स्थिति के साथ आने-जाने वाले मार्ग का स्पष्ट ज्ञान होना चाहिए। मतदान दल के सदस्यों के साथ समन्वय स्थापित करते रहें। ईवीएम और मतपत्र द्वारा मतदान प्रक्रिया के बारे में पूर्ण जानकारी रखें। साथ ही मतदान सामग्री का पूर्ण ज्ञान रखें। इसके अंतर्गत ईवीएम, मतपेटिका मतपत्र, निविदत्त मतपत्र, मतदाता रजिस्टर, निर्वाचक नामावली की मुद्रित प्रतियां, ग्रीन पेपर सील, स्ट्रीप सील, प्रपत्र और अमिट स्याही सहित कई अन्य सामग्री शामिल हैं। बैलेट यूनिट को अपने कंट्रोल यूनिट से जोड़ना में किसी भी प्रकार की गलती नहीं होनी चाहिए। पंचायत चुनाव में चार पद के लिए चुनाव ईवीएम से होंगे। इसलिए प्रत्येक पद के लिए अलग-अलग कंट्रोल यूनिट होंगे। उसे उस पद के संगत बैलेट यूनिट से ध्यानपूर्वक जोड़ना होगा। इस दौरान मुख्य रूप से नवल किशोर शर्मा, इफ्तेखार अहमद, रामायण साह, विनोद कुमार गुप्ता, शिव शंकर, अमित कुमार, अरविद कुमार, आलम रब्बानी, जीवन कुमार, नेहाल, जोसेफ और लालचंद कुमार सहित कई प्रशिक्षण मौजूद रहे।

Edited By: Jagran