फोटो 10 केएसएन 68,69,70

संवाद सूत्र, ठाकुरगंज(किशनगंज) : पिछले कुछ दिनों से इलाके में बहने वाली नदियों के जल ग्रहण क्षेत्रों में हो रही लगातार वर्षा के कारण नदियों में उफान आ गया है। नदियों के जलस्तर में लगातार वृद्धि होने से लोगों में डर समाने लगा है कि पता नहीं कब नदी कहर बरपा दे। नदियों में बढ़ते जलस्तर और तेज धार के कारण कई स्थलों पर कटाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है। महानंदा, चेंगा आदि नदियों के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है। हालांकि हालात अभी नियंत्रण में है। महानंदा नदी में आए उफान के बाद प्रशासनिक स्तर पर सतर्कता बरती जा रही

है। अंचलाधिकारी द्वारा नदी के तटवर्ती इलाकों का सघन दौरा किया जा रहा है। वहीं ठाकुरगंज और पोठिया पुलिस भी सतत निगरानी रख रही है। दोनों थानाध्यक्षों द्वारा नदी के तटवर्ती इलाको के दौरे के साथ महानंदा पुल पर निगरानी के लिए जवान तैनात कर दिए गए है। महानंदा नदी में उफान के कारण सखुआडाली, कनकपुर, पटेसरी, छेतल, बरचोंदी, खारुदाह पंचायतों के दर्जनों गांव के लोग सशंकित हैं। ग्रामीण महानंदा के उफान पर नजर रखे हुए हैं। सोमवार को सुबह छह बजे से ही महानंदा में जलस्तर धीरे-धीरे बढ़ रहा था, ¨कतु शाम तक जल स्तर घटने की सूचना से थोड़ी राहत है। इस बाबत अंचलाधिकारी उदय कृष्ण यादव ने बताया कि प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है। बाढ़ की स्थिति पर नजर जमाए हैं। सभी पंचायत सेवक, राजस्व कर्मचारी को सजग रहने को कहा गया है।

Posted By: Jagran