जागरण संवाददाता, खगड़िया: राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर समाहरणालय सभाकक्ष में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता डीएम आलोक रंजन घोष ने की। 12वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का उदघाटन दीप प्रज्वलित कर किया गया।

विदित हो कि 25 जनवरी 1950 को संवैधानिक संस्था के रूप में भारत निर्वाचन आयोग का गठन हुआ था। 25 जनवरी 2011 को प्रथम राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया गया। डीएम ने कहा कि त्रुटिरहित मतदाता सूची का निर्माण करने, मतदाताओं को मताधिकार के लिए जागरूक एवं प्रेरित करने, 18-19 आयु वर्ग के मतदाताओं, महिला मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में दर्ज करने एवं दिव्यांग मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ने, उन्हें मताधिकार के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। 12वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस का थीम निर्वाचन को समावेशी, सुगम एवं सहभागिता पूर्ण बनाना है।

इस अवसर पर मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा के संदेश को सभी उपस्थित पदाधिकारियों एवं राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को प्रोजेक्टर के माध्यम से दिखाया गया। उन्होंने अपने संदेश में जानकारी दी है कि अब वर्ष में चार बार मतदाता सूची में पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। कोविड महामारी के दौरान चुनौतीपूर्ण निर्वाचन को संपन्न कराया गया है। सर्वश्रेष्ठ पद्धतियों एवं पहल को निर्वाचन प्रक्रिया में शामिल किया गया है। नो योर कैंडिडेट नाम के मोबाइल ऐप की शुरुआत भी की गई है।

जिलाधिकारी द्वारा सभी उपस्थित पदाधिकारियों, राजनीतिक दल के प्रतिनिधियों एवं कर्मियों को निर्वाचन आयोग द्वारा प्रेषित शपथ भी दिलाई गई।

इस अवसर पर विभिन्न राजनीतिक दलों के अध्यक्षों एवं सचिवों के साथ पदाधिकारियों ने भी अपने विचार रखे और महत्वपूर्ण सुझाव पेश किए। जिलाधिकारी ने जानकारी दी कि संक्षिप्त पुनरीक्षण, 2022 के दौरान जिले में कुल 33,111 नए मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ा गया है। दिनांक 05.01.22 को प्रकाशित अद्यतन निर्वाचक सूची के अनुसार जिले में कुल मतदाताओं की संख्या 11,86,772 है। जिसमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 6,20,748, महिला मतदाताओं की संख्या 5,65,982 एवं अन्य मतदाताओं की संख्या 42 है। जिले में मतदाता जनसंख्या अनुपात एवं लिगानुपात में सुधार हुआ है। जिले का औसत लिगानुपात 912 है। सर्वाधिक लिगानुपात 148-अलौली (अ. ज.) विधानसभा क्षेत्र में 926 है। 150-बेलदौर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के बीएलओ सुनील कुमार सिंह को अपने मतदान केंद्र में मतदाता जनगणना अनुपात एवं लिगानुपात में वृद्धि लाने के लिए निर्वाचन विभाग बिहार द्वारा राज्य स्तरीय बेस्ट इलेक्ट्रोलैब प्रैक्टिसेज अवार्ड 2021 के तहत बेस्ट बीएलओ के रूप में सम्मानित किया गया है।

जिलाधिकारी ने कहा कि चुनाव में हर एक वोट का महत्व होता है। उम्र दराज एवं वयोवृद्ध मतदाता बूथ पर जाकर मतदान करते हैं। जो कि पूरे समाज के लिए नजीर और बाकी लोगों को आइना दिखाता है। सभी लोगों को मतदान में भाग लेना चाहिए और अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग करना चाहिए।

इस कार्यक्रम में मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के अलावा उप विकास आयुक्त अभिलाषा शर्मा, अपर समाहर्ता शत्रुंजय कुमार मिश्रा, अपर समाहर्ता सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी भूपेंद्र प्रसाद यादव, उप निर्वाचन पदाधिकारी जितेंद्र कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी धर्मेंद्र कुमार सहित सभी जिलास्तरीय पदाधिकारी मौजूद थे।

Edited By: Jagran