खगड़िया। फरकिया के कुख्यात रामानंद यादव उर्फ पहलवान की हत्या बाद से सहरसा व खगड़िया पुलिस सक्रिय हो उठी है। सूत्रों का कहना है कि सहरसा, खगड़िया के कई आपराधिक गिरोह के साथ ही कथित नक्सली गिरोह से भी रामानंद यादव की जानी दुश्मनी थी। स्वजन द्वारा अब तक पुलिस के समक्ष बयान नहीं दिया गया है।

फरकिया में अमन चैन स्थापित रखने को लेकर कोसी रेंज के डीआइजी सुरेश चौधरी, सहरसा एसपी राकेश कुमार ने सिमरी बख्तियारपुर के डीएसपी समेत कई थानों की पुलिस को चौकसी बरतने के आदेश दिए गए हैं। खगड़िया की एसपी मीनू कुमारी ने भी सदर एसडीपीओ आलोक रंजन के नेतृत्व में टीम बनाई है। टीम में सदर पुलिस इंस्पेक्टर बासुकीनाथ झा, अलौली, मोरकाही, अमौसी, मोहराघाट, पीपरपांति समेत अन्य थानों की पुलिस को कहा गया है कि फरकिया क्षेत्र में लगातार छापेमारी की जाए। किसी भी सूचना पर त्वरित कार्रवाई की जाए और सहरसा पुलिस को पूरी तरह से आपरेशन में सहयोग किया जाए। एसपी ने बताया कि पल-पल की सूचना रखी जा रही है। पुलिस किसी भी हालत से निपटने के लिए सक्षम है। कानून को हाथ में लेने वाले बख्से नहीं जाएंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस