कटिहार। प्रखंड के समीपवर्ती राजवाड़ा पंचायत के खेतों में काम कर रहे मजदूर उन लोगों के लिए एक प्रेरणा है, जो बेवजह लॉकडाउन में बाहर निकलते और सामाजिक दूरी का पालन नहीं करते हैं। राजवाड़ा पंचायत के किसान और मजदूर लॉकडाउन के बीच शारीरिक दूरी का पालन करते हुए खेती के कार्य में लगे हुए हैं। हालांकि लॉकडाउन में व्यापारियों के नही आने से फसलों के उचित कीमत नही मिल रहा है। इसके बावजूद लॉकडाउन के अपील से खुश हैं और खेतों में सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं। अभी भिडी, मिर्चा आदि सब्जी सहित गेंहू,मक्का की निकाई कटाई का कार्य हो रहा है। इसमें मजदूर व किसानों द्वारा सामाजिक दूरी का पालन करते हुए कार्य किया जा रहा है। किसान मोहन सिंह, कुशेश्वर सिंह, उमेश कुमार आदि किसानों ने बताया कि लॉकडाउन में व्यापारियों के नही आने से सब्जियों का वाजिब कीमत नहीं मिल रहा है। मंडियों में चार रुपये खीरा, चार रुपये मिर्चा व चार से पांच रुपये प्रति किलोग्राम टमाटर का भाव लगाया जा रहा है। स्थानीय हाट बाजारों में इतना खपत नही हो रहा है। इससे खेतों में फसल बर्बाद हो रहा है। इसके बावजूद सभी इस लॉकडाउन से खुश हैं। तन मन से खेती के कार्य में लगे हुए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस