कटिहार। प्रतिकूल मौसम के बीच भी दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी श्रमिकों के आगमन का सिलसिला जारी है। सरकारी साधन के अलावा निजी साधन सहित अन्य माध्यमों से लोग कष्टप्रद यात्रा कर घर पहुंच रहे हैं। बुधवार की शाम छह बजे कटिहार से साइकिल से बच्चों व महिलाओं के साथ मजदूरों का एक जत्था मनिहारी पहुंचा। मनिहारी पहुंचे मजदूरों ने बताया कि वे लोग दिल्ली से आए हैं। ट्रेन, बस व साइकिल से यह यात्रा पूरी की है। सभी को रांची व हजारीबाग जाना है। हजारीबाग के इचाक थाना के अलोनजा कला गांव के रणजीत भुइयां अपनी पत्नी आशा देवी व छोटे-छोटे बच्चे राजवीर कुमार व अंजना कुमारी के साथ साइकिल से कटिहार से मनिहारी अपने सहयोगी सिमडेगा रांची के राफेल, डब्लू कुमार, भरत राम खेरवार व गोपाल बेसरा के साथ पहुंचे। बताया कि दिल्ली में काम करते थे। काम धंधा बंद होने पर घर आना मजबूरी हो गई। वे ट्रेन मार्ग से दिल्ली से आगरा, आगरा से देवरिया तथा देवरिया से सिवान तथा सिवान से कटिहार पहुंचे। ट्रेन से कटिहार पहुंचने के बाद कोई साधन नहीं मिला तो साइकिल से तेज हवा व पानी मे किसी तरह सहयोगियों के साथ मनिहारी पहुंचे। कहा कि कुछ समझ नहीं आ रहा था, जहां जो साधन मिला आगे निकलता रहा। उन्होंने बताया कि इस यात्रा से दोनों बच्चे कुम्हला गए हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस