कटिहार। शहर में चल रहे फर्जी पैथोलाजी व नर्सिंग होम के मामले को लेकर युवा राजद का एक प्रतिनिधिमंडल सिविल सर्जन से मिला। साथ इस संबंध में ज्ञापन सौंपते हुए इस पर तत्काल अंकुश लगाने की मांग की। युवा राजद के बिहार प्रदेश सचिव आशु पांडे ने इसकी अगुवाई की। उन्होंने कहा कि शहर के विनोदपुर में कई फर्जी नर्सिंग होम व फर्जी जांच धड़ल्ले से चल रहे हैं। लगातार इसका जाल गहराता ही जा रहा है। चिकित्सा के नाम पर खुली इन दुकानों में न केवल लोगों के जान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, बल्कि जमकर उनका आर्थिक शोषण भी किया जा रहा है। गलत जांच रिर्पोट व गलत इलाज के कारण अक्सर मरीजों की मौत भी हो जाती है और इस पर कोई संज्ञान नहीं लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इसके लिए दलालों का एक रैकेट सक्रिय है। जो स्टेशन व बस पड़ाव पर ही मरीजों को जाल में फांस इन दुकानों तक पहुंचा देते हैं। श्री पांडे ने कहा कि कटिहार के बड़े-बड़े लोग इस भ्रष्टाचार में सम्मिलित हैं जो स्वास्थ्य माफिया बन चुके हैं। इनके खिलाफ जल्द से जल्द कठोर कदम उठाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग को वैध नर्सिंग होम व जांच घर की सूची सार्वजनिक करनी चाहिए, ताकि लोग फर्जी संस्थानों व नर्सिंग होम की पहचान कर सके। अगर इस दिशा में ठोस कार्रवाई नहीं हुई तो वे लोग आंदोलन को बाध्य होंगे। इस मौके पर अविनाश कुमार, बॉबी अली, निक्की पासवान, आर्यन पासवान, सोनू पांडे, लकी शादाब खान, विजय सहवास सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप