कटिहार। प्रखंड क्षेत्र में बाढ़ का पानी फैलने लगा है। यू तो सभी पंचायतों के निचले इलाके में पानी पहुंच गया है, लेकिन कुछ गांव ज्यादा प्रभावित हुए हैं। खेतों में लगा धान डूब गया है। कदवा प्रखंड के शिवगंज और चांदपुर में महानंदा नदी का बांध खुला रहने से बाढ़ का पानी अब प्रखंड क्षेत्र में सीधे प्रवेश कर जाता है। 2017 के बाढ से हुई तबाही को याद कर आज भी लोग सहम जाते हैं। लोगों को फिर से संभावित तबाही की चिता सताने लगी है। केलाबाड़ी, सोंती जैसे गांवों का मुख्य सड़क से संपर्क भंग हो गया है। अगर पानी का बढ़ना जारी रहा तो अन्य इलाकों में भी बुधवार तक पानी का पहुंचना तय है। हलांकि प्रखंड आपदा विभाग बाढ़ पूर्व की गई तैयारियों के बल पर आपदा की स्थिति से निपटने का दावा कर रहा है। वहीं जनप्रतिनिधि प्रशासनिक दावे को सिरे से नकार रहे हैं। फिलहल कोरोना संक्रमण और बाढ़ की स्थिति को लेकर लोगों की बेचैनी बढ़ने लगी है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस