कटिहार। जिले के एक कस्तूरबा आवासीय विद्यालय में नामांकित दो मूक बधिर बहनें सोमवार की दोपहर अचानक गायब हो गई थीं जिन्हें मंगलवार को बरामद कर लिया गया। बच्चियों के पता लगने तक विभागीय अधिकारियों की नींद गायब रही।। दोनों बच्चियां सकुशल है। जानकारी के अनुसार 10 वर्षीय एवं छह वर्षीय छात्रा सोमवार को विद्यालय से किसी को कुछ बताए बिना कहीं निकल गई। संभावना है कि दोनों घर के लिए निकल पड़ी थी। रास्ता भटक जाने के कारण दोनों बच्चियां सोमवार की देर शाम बस गाढ़ा चौक के पास रो रही थीं। बच्चे को रोते देख सड़क किनारे स्थित महादलित टोला के मंगलू ऋषि ने उसे चुप कराते हुए रात भर अपने घर में आश्रय दिया। दोनों बच्ची मूक-बधिर होने के कारण कुछ भी बताने में असमर्थ थीं, इसलिए आश्रयदाता भी असमंजस में थे। उन्होंने इसकी सूचना पंचायत प्रतिनिधियों की दी और फिर यह सूचना पुलिस तक पहुंची। इधर रात भर विद्यालय प्रशासन एवं उनके परिजन बच्ची को ढूंढने में परेशान रहे। मंगलवार को इस सूचना पर विद्यालय परिवार व परिजन द्वारा बच्ची को बरामद किया। विद्यालय परिवार ने मंगलू ऋषि को धन्यवाद देते हुए दोनों बच्ची को उनके परिजन के हवाले कर दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस