कटिहार। चुनावी तिथि निकट आने के साथ हीं क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों में गांव के चौपाल से लेकर चौक बाजार में चुनावी चर्चा जोर पकड़ने लगी है। इसके साथ हीं विभिन्न पदों पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की क्षेत्र में चहल कदमी बढ़ गई है। लोग चौपाल में निवर्तमान प्रतिनिधि के कार्यकाल की समीक्षा के साथ ही संभावित प्रत्याशी के अचार व्यवहार के साथ अन्य बातों का भी आकलन कर रहे हैं। चुनावी चर्चा में जातिगत जोड़-घटाव के साथ विकास की भी बातें हो रही है। प्रखंड के कुरसैल पंचायत के कचौरा गांव में चुनावी चर्चा के दौरान पप्पू कुमार विश्वास ने बताया कि पांच वर्षों में जनता को प्रतिनिधि चुनने का मौका मिलता है। लोग सोच समझकर प्रतिनिधि का चयन करें जबकि कचौरा के हीं कृष्णदेव मंडल ने बताया कि ऐसे प्रतिनिधि का चयन किया जाए, जिससे पंचायत का समुचित विकास हो सके। वहीं सहदेव परिहार ने कहा कि विकास कार्य करने वाले प्रतिनिधि को प्राथमिकता दी जाएगी जबकि सुकदेव विश्वास ने बताया कि वे लोग ऐसे प्रतिनिधि का चयन करेंगे जो सभी को साथ में लेकर चलने वाला हो। साथ हीं पंचायत का विकास करने वाला हो। जबकि कृत्यानंद विश्वास ने कहा कि अब तुष्टिकरण एवं जातपात की राजनीति करने वालों की जगह नहीं है। जो विकास करेगा जनता उसका साथ देगी। प्राय: लोग इस बार चुनाव में विकास के मुद्दे पर अपनी सहमति जता रहे हैं। बहरहाल चुनावी तिथि निकट आने के साथ जनता की राय भी सामने आने लगी है। वहीं प्रत्याशी भी किसी प्रकार से अपनी जीत पक्का करने के अभियान में जनता जनार्दन के चौकठ पर दस्तक दे रहे हैं। कदवा में नौवें चरण में 29 नवंबर को चुनाव होना है।

Edited By: Jagran