भभुआ। जिले में कोरोना से तीसरी मौत रविवार को हो गई। यह मौत भी भभुआ नगर निवासी एक व्यक्ति की ही हुई है। तीन जुलाई से लेकर 12 जुलाई तक आठ दिन के अंदर जिले में तीसरी मौत से लोगों में भय बढ़ता जा रहा है। उधर कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देख प्रशासन की नींद भी हराम हो गई है। बता दें कि नगर के वार्ड 22 निवासी एक व्यक्ति को कोरोना का पॉजिटिव पाए जाने पर उसे गंभीर अवस्था में गया रेफर किया गया। जीएमसीएच के चिकित्सकों ने उसे पटना रेफर कर दिया। जहां उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि 55 वर्षीय अधेड़ को परिजन इलाज के लिए बनारस के हेरिटेज हास्पिटल ले गए। जहां चिकित्सकों ने उन्हें आइसोलेशन में रहने की सलाह देते हुए अपने जिले में भेज दिया। बनारस से लौट कर अपने घर चले गए। जहां शनिवार की सुबह अचानक तबीयत खराब होने पर परिजन सदर अस्पताल ले गए। सदर अस्पताल के चिकित्सकों ने उसे गया रेफर कर दिया। गया से पटना रेफर होने पर उसे परिजन पटना लेकर पहुंचे। लेकिन एनएमसीएच में उसने दम तोड़ दिया। इस बात की पुष्टि प्रभारी सीएस डॉ. अशोक कुमार सिंह ने की। उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व तीन जुलाई को भभुआ नगर में रहने वाली एक महिला की भी गया में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। उसे भी पॉजिटिव पाए जाने पर गंभीर अवस्था में गया रेफर किया गया था। इसके बाद दस जुलाई को नगर के वार्ड 12 निवासी एक वृद्ध की कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद गया रेफर किया गया। लेकिन वृद्ध ने सदर अस्पताल में ही दम तोड़ दिया। इसके बाद यह तीसरी मौत हो गई। वहीं स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कैमूर जिले से 6422 लोगों का सैंपल जांच के लिए पटना भेजा गया है। जिसमें अभी 455 सैंपल की रिपोर्ट आनी बाकी है। अब तक कैमूर जिले में 251 लोगों को पॉजिटिव पाया गया है। इसमें 224 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। शेष लोगों का इलाज चल रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस