मोहनियां: कोरोना महामारी के तेजी से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग सजग है। प्रशासनिक पदाधिकारी अस्पतालों की व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त करने को नियमित निरीक्षण कर रहे हैं। कोरोना की नियमित जांच एवं ग्रामीण स्तर पर टीकाकरण पर बल दिया जा रहा है। जिससे संक्रमण से लोगों को बचाया जा सके।आम आवाम को चिकित्सा सुविधा का लाभ मिल सके। शनिवार को मोहनियां के एसडीएम राहुल कुमार ने अनुमंडल अस्पताल का औचक निरीक्षक किया। अस्पताल के चिकित्सक व कर्मियों की उपस्थिति की जानकारी ली। सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। अस्पताल के उपाधीक्षक डा. एके दास व प्रबंधक जय प्रकाश सिंह से आक्सीजन प्लांट से वार्डों के बेड तक होने वाली आक्सीजन की आपूर्ति, दवा की उपलब्धता, कोरोना जांच व कोरोना रोधी टीकाकरण से संबंधित जानकारी ली। उस समय अस्पताल में सफाई का कार्य चल रहा था। सभी चिकित्सक व कर्मी ड्यूटी पर तैनात थे। एसडीएम ने उपाधीक्षक को ग्रामीण स्तर पर टीकाकरण की गति में तेजी लाने को कहा। प्रतिदिन नियमित तौर पर कोरोना जांच पर बल दिया। उपाधीक्षक ने उन्हें बताया कि शनिवार को अस्पताल से 25 टीमों को ग्रामीण स्तर पर टीकाकरण के लिए रवाना किया गया है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय-गया रेलखंड पर अवस्थित भभुआ रोड रेलवे स्टेशन, जीटी रोड पर डिड़ीखिली गांव के समीप अवस्थित टोल प्लाजा एवं अनुमंडल अस्पताल में प्रतिदिन बाहर से आने वाले लोगों की कोरोना जांच की जा रही है। इस दौरान लोगों को कोरोना से बचाव के लिए सरकार एवं प्रशासन द्वारा जारी गाइडलाइन का अनुपालन करने के लिए कहा जा रहा है। इस संबंध में एसडीएम ने बताया कि अस्पताल की व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने के लिए वे लगातार अनुमंडल अस्पताल का निरीक्षण कर रहे हैं। शनिवार को भी उनके द्वारा निरीक्षण किया गया। इसमें साफ सफाई चिकित्सक व कर्मियों की उपस्थिति, दवा का स्टॉक, ग्रामीण स्तर पर टीकाकरण अभियान में तेजी लाने को कहा गया। अस्पताल में साफ-सफाई की व्यवस्था ठीक थी। सभी चिकित्सक व कर्मी ड्यूटी पर तैनात थे। चिकित्सकों व कर्मियों को निर्देश दिया गया कि वे कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए ड्यूटी में लापरवाही न बरतें। हर हाल में आम आवाम को बेहतर चिकित्सा सुविधा का लाभ मिलना चाहिए। कोराना की नियमित जांच हो। जिससे इस महामारी के संक्रमण को रोका जा सके।

Edited By: Jagran