लाठीचार्ज के विरोध में यूपीए कार्यकर्ता सोमवार को सड़क पर उतर गए। चांदनी चौक पर कार्यकर्ताओं ने आधे घंटे तक चक्का जाम किया। बंद के मद्देनजर वहां मोहनियां के सीओ राकेश कुमार ¨सह, थानाध्यक्ष राज कुमार ¨सह, एस आई राजीव कुमार पुलिस बल के साथ तैनात थे। पदाधिकारियों ने कार्यकर्ताओं को समझा कर जाम हटवाया। इस दौरान कार्यकर्ता नीतीश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। कार्यकर्ताओं का कहना था कि बिहार सरकार विपक्ष के नेताओं को निशाना बना रही है। लोकतंत्र में धरना प्रदर्शन करना सबका अधिकार है। शिक्षा सुधार को लेकर उपेंद्र कुशवाहा अभियान चला रहे हैं। इससे सरकार की किरकिरी हो रही है। इसी वजह से सरकार उनकी आवाज को दबाना चाहती है। पटना में रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व कार्यकर्ताओं पर बर्बरता पूर्ण की गई कार्रवाई से संपूर्ण विपक्ष आहत है। सड़क जाम करने वालों में रालोसपा के राम नगीना ¨सह, कन्हैया गोस्वामी, हम के कार्यकारी जिलाध्यक्ष मुकेश पासवान, कांग्रेश के पूर्व जिलाध्यक्ष राधेश्याम कुशवाहा, दीनानाथ ¨सह,गीता पासी, सदानंद पांडेय, भरत गुप्ता, राजद के ललन राम, लीलाधर कुशवाहा, अवधेश कुशवाहा, नंद कुमार ¨सह, हरेंद्र कुशवाहा, सैयद नफीसुद्दीन, जवाहर ¨बद, वंश नारायण राम, कमलेश कुशवाहा, श्रीनिवास यादव, उमाशंकर कुशवाहा, शाहरुख मजीद, शमशेर खान सहित अन्य कार्यकर्ता शामिल रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस