दिल्ली-हावड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या दो कुदरा में इतना जर्जर हो चुका है कि मंगलवार को सकरी नहर पुल के ऊपर से गुजर रहे एक ट्रक पर से लोहे का करीब 50 टन वजन का रोल नीचे गिर पड़ा। लोहे का रोल ट्रक के हिचकोले खाने की वजह से गिरा। गनीमत थी कि घटना जब घटी उस समय अभी पौ नहीं फटा था। जिसके चलते आसपास कोई आदमी नहीं था। लोगों का कहना है कि यदि दिन में यह घटना घटी होती तो बेकसूर लोगों के हताहत होने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता था। लोहे के रोल से दक्षिण साइड की एक लेन बंद हो जाने के चलते दिन भर यहां आवागमन बाधित रहा। पश्चिम की ओर जाने वाले वाहनों को एक लेन से ही काम चलाना पड़ा। जिसके चलते सकरी गांव के पास कभी-कभी सड़क जाम की स्थिति भी पैदा होती रही।

बता दें कि सिक्स लेन सड़क कुदरा प्रखंड मुख्यालय से सकरी गांव के बीच में चार लेन की है, जिसके चलते यहां सब कुछ ठीक-ठाक रहने पर भी दोनों साइड में मात्र दो दो लेन ही उपलब्ध रहते हैं। मिली जानकारी के मुताबिक थाना क्षेत्र अंतर्गत कई जगहों पर एनएच दो की स्थिति काफी जर्जर है। सकरी नहर पुल के ऊपर भी उसकी स्थिति काफी खराब है। सड़क की उबड़ खाबड़ सतह के चलते वहां से गुजरते वक्त वाहन हिचकोले खाते रहते हैं। लोहे का भारी रोल लेकर पश्चिम की ओर जा रहे वाहन के मंगलवार को मुंहअंधेरे हिचकोले खाने के चलते रोल नीचे सड़क पर गिर पड़ा। घटना के बाद एनएचएआइ के पेट्रोलिग दस्ते द्वारा उक्त जगह की बैरिकेडिग कर दुर्घटनाओं का बचाव किया गया। लेकिन लोहे के रोल का वजन काफी अधिक होने के चलते उसे हटाया नहीं जा सका। हाइवे पेट्रोलिग दस्ते के सदस्यों ने बताया कि लोहे के रोल का वजन 50 टन होता है, जबकि उन लोगों के पास मौजूद क्रेन की उतनी क्षमता नहीं है। स्थानीय निवासी दिनेश सिंह, निरंजन गुप्ता, मनोज कुमार आदि लोगों ने बताया कि सड़क की स्थिति खराब रहने के चलते सकरी मोड़ पर आए दिन दुर्घटनाएं घटती रहती हैं। समाचार लिखे जाने तक हाइवे पर से लोहे के रोल को हटाया नहीं जा सका था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस