कैूमर। कोरोना वायरस से आमजन के बचाव के लिए की जाने वाली व्यवस्था में हर वर्ग के लोग सरकार का सहयोग कर रहे है। जिला व्यवहार न्यायालय के न्यायिक पदाधिकारियों ने भी सकारात्मक पहल की है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश सम्पूर्णानंद तिवारी के साथ-साथ अन्य न्यायिक पदाधिकारियों ने अपने वेतन से दस-दस हजार रुपये का सहयोग करते हुए कुल 80 हजार की राशि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आपदा कोष में दान दिया। जिला व सत्र न्यायाधीश ने कहा कि मुझे यह जानकर खुशी महसूस हो रही है कि न्यायालय के तृतीय वर्ग व चतुर्थ वर्ग के कर्मी भी अपने आसपास के गरीब लोगों की सहायता कर रहे हैं। वर्तमान समय में समाज के हर वर्ग के लोगों का यह मानवीय धर्म है कि वर्तमान समय में जो जहां है वहीं अपनी क्षमता के अनुसार आसपास के गरीब लोगों को कम से कम खाना व स्वच्छता की व्यवस्था उपलब्ध कराए। सीएम के आपदा कोष में राशि देने वाले न्यायिक पदाधिकारियों में एडीजे सप्तम आलोक पांडेय, एडीजे अष्टम एसपी शुक्ला, एडीजे तृतीय काजल झांब, एडीजे षष्ठम संदीप कुमार मिश्रा, एडीजे सुनील कुमार चौबे, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी सुरेंद्र कुमार मिश्र, विधिक प्राधिकार की सचिव विभा द्विवेदी व प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी मनोज कुमार आदि शामिल है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस