जिले के प्रखंड स्तरीय चिकित्सा पदाधिकारियों को कोरोना वायरस से बचाव के लिए चिकित्सा प्रणाली के संबंध में प्रशिक्षित किया गया। सोमवार को जिले के सभी प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारियों को सिविल सर्जन डॉ. अरुण कुमार तिवारी व वरीय चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. अनिल कुमार सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के माध्यम से कोरोना वायरस के लक्षण व चिकित्सा के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। साथ ही उसके बेसिक उपचार के संबंध में भी पूछे गए प्रश्नों का जवाब दिया।

इस संबंध में डॉ. अनिल सिंह ने बताया कि जिले में अभी तक कोरोना वायरस से संबंधित कोई संक्रमित व्यक्ति सामने नहीं आया है। इसके बावजूद जिले में सभी चिकित्सा पदाधिकारियों को इस वायरस के पीड़ित मरीज के सिम्टम्स के संबंध में विस्तार पूर्वक अवगत कराया गया है तथा पीड़ित मरीज के इलाज के संबंध में बरती जाने वाली सावधानी और दिए जाने वाले चिकित्सकीय प्रणाली के संबंध में भी जानकारी देकर अवगत कराया गया है।

चिकित्सा पदाधिकारी ने कहा कि जिले में अन्य प्रदेशों से आने वाले लोगों की पहचान के लिए आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों की पहचान करेंगी। पहचान किए गए व्यक्ति की स्वास्थ्य जांच भी कराई जाएगी। सभी चिकित्सा पदाधिकारियों को इलाज के दौरान बरती जाने वाली सावधानी के बारे में भी विशेष ध्यान रखने के संबंध में कहा गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस