बिहार रक्षा वाहिनी स्वयं सेवक संघ ने गुरुवार को समाहरणालय के समीप लिच्छवी भवन के पास बने स्थल पर धरना दिया। धरना की अध्यक्षता राम एकबाल ¨सह व संचालन सचिव रामानंद राम ने किया। धरना में वक्ताओं ने कहा कि 14 सूत्री मांगों को लेकर कार्यक्रम किया गया है। 28 फरवरी को पटना में धरना का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। वक्ताओं ने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय के फैसले के आलोक में समान काम का समान भत्ता बिहार सरकार के द्वारा दिया गया है। लेकिन अन्य सुविधा अभी गृह रक्षकों को प्राप्त नहीं हुई है। स्वयं सेवकों ने कहा कि अन्य सुविधा भी पुलिस के समान जब से न्यायालय से आदेश हुआ है तब से दिया जाए। वहीं गृह रक्षकों को सेवानिवृत्ति का लाभ डेढ़ लाख एक मुश्त अविलंब दिया जाए। इसके अलावा उनकी प्रमुख मांगों में अनुग्रह अनुदान का भुगतान एवं अनुकंपा पर नया नामांकन शीघ्र करने, भत्ते का भुगतान समय से करने, वर्दी भत्ते का भुगतान शीघ्र करने, संघ के द्वारा परिवाद पत्र जो दिया जाता है उस परिवार की जांच में काफी विलंब होता है या रफा-दफा कर दिया जाता है। इसे गंभीरता से लेते हुए निष्पक्ष जांच करा कर दोषी पदाधिकारियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने सहित कुल 14 मांग शामिल हैं। धरना में वशिष्ट पाल, श्री भगवान ¨सह, कमलेश ¨सह, कलक्टर दुबे, केदारनाथ राम, ददन राम, राम प्यारे पांडेय, पारसनाथ राम, राजवंश उपाध्याय, भीम साह, बनारसी ¨सह, शिवधनी चौधरी आदि गृह रक्षक शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप