नगर के चकबंदी रोड की स्थिति दिन प्रतिदिन नारकीय होती जा रही है। नगर के वार्ड 10 व 11 के लिए चकबंदी रोड मुख्य रास्ता है। इस रोड के दोनों तरफ कई कोचिग संस्थान भी संचालित हो रहे हैं। जहां सुबह से लेकर देर शाम तक छात्र-छात्राओं का आना-जाना लगा रहता है। इसके अलावा दोनों वार्ड के लोग भी इसी रास्ते से आते जाते हैं। लेकिन रोड की स्थिति नारकीय होने से लोगों को आने जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बीते गुरुवार की रात से शुरू हुई बारिश के बाद चकबंदी रोड की स्थिति और बदतर हो गई है। शनिवार की रात व रविवार की भोर में हुई बारिश के बाद चकबंदी रोड के कई स्थानों पर जल जमाव की समस्या उत्पन्न हो गई है। रोड के किनारे बने नए घरों के सामने पड़ी मिट्टी बारिश से सड़क पर आ गई। इससे पूरा रास्ता कीचड़नुमा हो गया है। जिससे पैदल कोचिग आने वाले छात्र-छात्रा किसी तरह जलजमाव से बचते हुए कोचिग तक पहुंच रहे हैं। चकबंदी रोड के किनारे बना नाला भी कई जगह टूटा हुआ है। इसके चलते छात्र छात्रा और आम लोग नाला के ऊपर से भी जाने में डर रहे हैं। लगभग छह माह पूर्व ही चकबंदी रोड के निर्माण की स्वीकृति मिल चुकी है। नगर परिषद भभुआ को इस सड़क के निर्माणा के लिए राशि भी आवंटित हो चुकी है। लेकिन अब तक इस सड़क के निर्माण की बात तो दूर सफाई का कार्य भी ठीक तरीके से नहीं कराया जा रहा है। वार्ड के लोगों ने कहा कि सड़क खराब होने से रात के अंधेरे में आने जाने वाले लोग अक्सर गिरकर घायल हो रहे हैं। सबसे अधिक परेशानी बाइक व साइकिल सवार लोगों को हो रही है। कीचड़नुमा सड़क हो जाने से बाइक और साइकिल फिसल जा रही है। जिससे लोग गिर जा रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस