संवाद सूत्र चैनपुर: थाना क्षेत्र के चैनपुर मुगलपुरवा से मलिकसराय तक सदर एसडीओ अनुपम ¨सह व एसडीपीओ अजय प्रसाद के नेतृत्व में सछ्वावना रैली का आयोजन किया गया। यहां बता दें कि बीते नवरात्रि को ग्राम मुगलपुरवा से गुजर रहे मलिकसराय के युवकों के साथ मुगलपुरवा के कुछ स्थानीय युवकों के द्वारा मारपीट की घटना घटी थी। जिस कारण दोनों गांव के लोगों में विवाद उत्पन्न हो गया था। जबकि इस विवाद के पूर्व दोनों गांव के बीच काफी मैत्रिक संबंध था। इस विवाद को लेकर दोनों पक्ष की तरफ से कभी मारपीट तो कभी प्राथमिकी दर्ज करवाने का सिलसिला शुरु हो गया। बीते रविवार को चैनपुर थाना परिसर में मोहर्रम व दशहरा पर्व को लेकर शांति समिति की बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें भभुआ एसडीओ एवं एसडीपीओ सहित प्रखंड के सभी गणमान्य लोग उपस्थित हुए थे। उसी दिन दोनों गांव के आपसी मतभेद को मिटाने के लिए सछ्वावना रैली के आयोजन की भी सहमति बनी थी। मंगलवार को सछ्वावना रैली का आयोजन जामा मस्जिद से शुरू हुआ। जिसमें दोनों गांव के लोग एवं उत्क्रमित मध्य विद्यालय चैनपुर कन्या मध्य विद्यालय चैनपुर व मध्य विद्यालय मलिकसराय के 30- 30 बच्चियां एवं स्थानीय पंचायत जनप्रतिनिधि, समाजसेवी, समाज के गणमान्य व्यक्ति सहित सदर एसडीओ अनुपम ¨सह व एसडीपीओ अजय प्रसाद, बीडीओ राजेश कुमार, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी सरोज कुमार के साथ सछ्वावना रैली की शुरुआत की गई। सछ्वावना रैली में सम्मिलित लोगों को चैनपुर पंचायत के मुखिया नुसरत परवीन द्वारा रास्ते में अपने घर पर सभी के लिए अल्पाहार की व्यवस्था की गई एवं रैली में सम्मिलित सभी लोगों को विश्राम कराया गया। जहां दोनों पक्ष के द्वारा एक दूसरे को पगड़ी व टोपी पहनाई गई। रैली मलिकसराय पहुंच सभा में परिवर्तित हो गई। जहां उपस्थित सभी लोगों को पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा आपसी मतभेद मिटाकर गले मिलवाया गया और एक दूसरे को गुलाब का फूल भेंट किया गया।

Posted By: Jagran