कैमूर : समाज कल्याण विभाग के अंतर्गत संचालित प्रयोजन कार्यक्रम के अंतर्गत तलाशकुदा व विधवा के अलावा वैसे अभिभावक जो गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं उनके बच्चों को बाल संरक्षण इकाई के माध्यम से तीन वर्ष तक आर्थिक सहायता दी जाएगी। बच्चों का चयन चयन समिति के माध्यम से किया जाएगा। बच्चों को प्रति वर्ष दो हजार रुपये की राशि प्रतिमाह तीन वर्ष तक मिलेगी। योजना का लाभ 18 वर्ष तक के बच्चों को मिलेगा। इस संबंध में सहायक निदेशक जिला बाल संरक्षण इकाई की सहायक निदेशक अंजलिका कृति ने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत जिले की तलाकशुदा व विधवा के अलावा वैसे अभिभावक जो गंभीर रूप से पीड़ित हैं तथा वैसे बच्चे जिनके अभिभावक जेल में बंद है वैसे लोगों के बच्चों को चयन समिति द्वारा चयनित करने के उपरांत बच्चों को आर्थिक सहायता के रुप में दो-दो हजार रुपये की प्रत्येक माह तीन वर्ष तक प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि चयन समिति में सहायक निदेशक बाल संरक्षण अध्यक्ष, समिति के सदस्य के रूप में बाल कल्याण समिति, चाइल्ड लाइन के समन्वयक तथा विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान की समन्वयक शामिल होंगे। सहायक निदेशक ने बताया कि इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक को प्रखंड मुख्यालय व जिला स्तर पर बाल संरक्षण इकाई में आवेदन जमा करना होगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस