कैमूर। लोग घर में सुरक्षित रहें। तभी कोरोना से जीत मिलेगी। इसका रामगढ़ में असर नहीं दिख रहा है। पुलिस प्रशासन की सख्ती के बाद भी लोग लॉकडाउन तोड़ने को विवश हैं। रामगढ़ बाजार के बैंक आफ इंडिया शाखा के ग्राहक सेवा केंद्र (सीएसपी) पर सोमवार को लोगों की भीड़ हो गई। सुबह साढ़े नौ बजे ही लोग इस सीएसपी पर पहुंच पैसा निकालने के लिए लॉकडाउन का उल्लंघन करना शुरू कर दिए। फिजिकल डिस्टेंसिग के लिए बनाया गया चक्रव्यूह को भी लोग तोड़कर मुख्य खिड़की पर जमा हो गए। भीड़ भी ऐसी हुई कि लोग एक दूसरे पर गिरने लगे। जो भारी लापरवाही का संकेत माना जा रहा है। इस ²श्य को देखने के बाद अगल बगल के मकानों में कैद हुए लोग सहम उठे। कोरोना जैसी महामारी से बचाव के लिए कोई वैक्सीन व दवा नहीं बल्कि फिजिकल डिस्टेंसिग ही बचाव का उपचार है। पुलिस प्रशासन की चौकसी भी यहां फेल हो जा रही है। पुलिस बाइक व चार चक्का गाड़ियों वालों पर कार्रवाई करे की पैदल चलकर गांव से आने वाले लोगों पर। बैंक ऑफ इंडिया के सीएसपी संचालक राजकुमार पांडेय से जब इस संदर्भ में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि हमने सभी लोगों को फिजिकल डिस्टेंसिग के अनुसार लाइन लगवा दिया था। लेकिन ये लोग लाइन तोड़कर कांउटर पर जमा हो जा रहे हैं। बैंक कह रहा कि सीएसपी खोले रहना है। मैं खुद ही इस भीड़ को देख हैरान हूं। पुलिस प्रशासन को इसकी सूचना दी गई है।

इस संबंध में थानाध्यक्ष राजीव रंजन सिंह ने बताया कि मैं वीसी में हूं। पुलिस पदाधिकारी को वहां भेजा जा रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस