प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों में 1405 नए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लाभुक स्वीकृत किए गए हैं। जिसमें अब तक 1139 लाभुकों का निबंधन हुआ है। इसमें से अब तक मात्र 933 लाभुकों की जिओ टैगिग हुई है। जबकि 720 लोगों को जिला से स्वीकृति मिल चुकी है। 30 जुलाई को शिविर आयोजित कर 1405 आवास लाभुकों को प्रथम किश्त का भुगतान करने का जिला कार्यालय से निर्देश प्राप्त है। लेकिन प्रखंड क्षेत्र में कार्यरत आवास सहायकों की शिथिलता से कार्य लंबित है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत चयनित लाभुकों का सर्वप्रथम निबंधन किया जाता है।। द्वितीय चरण में सभी लाभुकों का स्थल निरीक्षण करने के बाद जिओ टैगिग की प्रक्रिया पूरी की जाती है। तीसरे चरण में जिला से संबंधित लाभुकों को सुकृति मिलती है। चौथे चरण में संबंधित लाभुक को आवास योजना से संबंधित प्रथम किश्त की राशि भुगतान की जाती है। जिसके तहत कुछ पंचायतों में आवास सहायकों के सुस्त कार्य प्रणाली के कारण आवास योजना के लक्ष्य प्राप्ति में काफी समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। जिसमें सुस्त गति से चलने वाले बढ़ौना पंचायत में 116 लाभुकों को आवास योजना का लाभ देना है। जिसके तहत मात्र अभी तक 53 निबंधित हुए हैं और 32 का जिओ टैगिग किया गया है। करजांव पंचायत से 59 लाभुकों को लाभ देना है। जिसके तहत 43 लाभुकों का निबंधन कर लिया गया है। इसमें मात्र 26 लाभुकों की जिओ टैगिग हो पाई है। उदयरामपुर पंचायत में 217 लाभुकों को आवास योजना का लाभ देना है। इसमें मात्र 139 लाभुकों का निबंधन हुआ है एवं 92 लोगों की जिओ टैगिग हुई है। सिरबिट पंचायत से 67 लाभुकों को आवास योजना का लाभ देना है। जिसमें 35 लाभुकों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है। शत प्रतिशत प्रधानमंत्री आवास योजना के लक्ष्य की पूर्ति के लिए सभी आवास सहायकों को दो दिनों का समय दिया गया है। जिसमें निबंधन एवं जिओ टैगिग का कार्य हर हाल में पूरा करना है। ताकि आगामी तीस जुलाई को आयोजित शिविर में सभी चयनित आवास योजना के लाभुकों को प्रथम किश्त का भुगतान किया जा सके।

- राजेश कुमार, बीडीओ

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस