स्थानीय थाना क्षेत्र के चिपली गांव के सामने राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच दो पर छज्जूपुर पोखरा के पास रविवार को एक फर्नीचर मिस्त्री की मौत ट्रक की चपेट में आने से हो गई। घटना स्थल से कुछ दूर जाने के बाद चालक गाड़ी छोड़ कर फरार हो गया। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया। वहीं सूचना के बाद घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मृतक थाना क्षेत्र के धड़हर गांव निवासी प्रमोद विश्वकर्मा उर्फ साधु बताया जाता है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, प्रमोद विश्वकर्मा उर्फ साधु अपने गांव धड़हर से रोज की तरह घर से अपनी दुकान खोलने के लिए थाना क्षेत्र के मनोहरपुर मोड़ पर आ रहा था। तभी पश्चिम दिशा से आ रहे तेज रफ्तार में ट्रक की चपेट में आ गए। जिससे उनकी मौत घटना स्थल पर ही हो गई। ग्रामीणों के बताए अनुसार, प्रमोद विश्वकर्मा मरहियां मोड़ पर डिपू सिंह के मकान में प्लाई की दुकान खोले हुए थे तथा वहीं पर घर से आने के बाद फर्नीचर बनाने का काम करते थे। फर्नीचर का सामान बेच कर पूरे परिवार की जीविका चलाते थे। मौत की सूचना जैसे ही उनके परिजनों और गांव के लोगों को मिली तो गांव और परिवार में कोहराम मच गया। उनकी मौत की सूचना पर आसपास के लोग काफी संख्या में जुट गए। फिर इस घटना की सूचना स्थानीय थाना को दी गई। दुर्गावती थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर सदर अस्पताल भभुआ पोस्टमार्टम के लिए भेज दी। ट्रक का नंबर वहां पर उपस्थित लोगों ने दुर्गावती थाने को फोन के जरिए दिया। जैसे ही नंबर दुर्गावती थाने को मिला तो थाने के द्वारा गाड़ी को तत्काल पकड़ने के लिए नेशनल हाईवे पर प्रयास शुरू कर दिया गया, लेकिन थाने से कुछ ही दूरी पर गाड़ी का चालक और खलासी गाड़ी को खड़ा कर फरार हो गया। जहां से दुर्गावती पुलिस ने गाड़ी नंबर यूपी 21 सीएन 7393 को अपने कब्जे में ले ली। ट्रक के मालिक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधान में पुलिस जुट गई है। थाना प्रभारी सोहेल अहमद ने बताया कि सरकार के द्वारा जो मिलने वाली सुविधा होगी उसके लिए मैं प्रयास करूंगा। इस मामले की कार्रवाई बहुत जल्दी की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस