जमुई। लोक जन हित समिति द्वारा जिलाधिकारी के नाम पत्र लिखा है। पत्र में समिति अध्यक्ष एवं दिग्घी पंचायत के पूर्व मुखिया बलराम ¨सह तथा संयोजक आनंदी यादव ने कहा है कि आजादी के बाद भी प्रखंड के दिग्घी पंचायत में दबंग और माफिया का राज सरकार की सभी योजनाओं पर कायम है। उन्होंने कहा है कि पंचायत के मुखिया और आवास सहायक द्वारा सरकारी नियम-कानून को ताक पर रखकर अपने नियम-कानून के बल पर पैसा देने वालों को ही आवास योजना का लाभ दिया जाता है। मनरेगा योजना में मास्टर रोल में वे मजदूर होते हैं जो अपने घर का काम भी दूसरे मजदूरों से कराते हैं। वर्ष 2011 से 2018 तक जांच में पता चल जाएगा कि पंचायत में विकास के नाम पर सिर्फ कागजी खानापूर्ति की गई है। इन सवालों को लेकर लोक जन हित समिति द्वारा आगामी 19 सितम्बर को लक्ष्मीपुर प्रखंड मुख्यालय के समीप एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।

Posted By: Jagran