जमुई। बुधवार को मुहर्रम के मद्देनजर थाना परिसर में बीडीओ की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक हुई। इस मौ़के पर दोनों सम्प्रदाय के लोगों से मुहर्रम का त्यौहार आपसी सौहार्द व भाईचारे के साथ मनाने की अपील की गई। बैठक को संबोधित करते हुए बीडीओ ने कहा कि त्योहार के ऐन मौके पर कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा सामाजिक सद्भाव में खलल डालने की कोशिश की जाती है। प्रशासन वैसे तत्वों से सख्ती से निपटने को तैयार है। उन्होंने कहा एक दूसरे के धर्मों का आदर करना हमारी संस्कृति रही है। थानाध्यक्ष उमेश प्रसाद ने कहा कि समाज में कुछ उपद्रवी तत्व माहौल को बिगाड़ने में रहते हैं उनसे सतर्क रहने की जरूरत है। उपद्रवी तत्वों से निपटने के लिये प्रशासन द्वारा पूरी तैयारी कर ली गई है। कहा कि यह त्योहार करबला के मैदान में हुसैन व हसन द्वारा दी गई शहादत के याद में मनाया जाता है। इस त्यौहार को सादगी के साथ मनाया जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि ताजिया जुलूस के लिये जिस मार्ग की अनुज्ञप्ति दी गई है उसी मार्ग से ले जाना है। साथ ही साथ तजिया जुलूस के दौरान डीजे पूरी तरह प्रतिबंधित है। इस मौके पर मुखिया निया•ा अंसारी, मकबूल अंसारी, विश्वविजय ¨सह, मिथिलेश पांडेय, ब्रजनंदन ¨सह, मो. सरफराज, सुधीर कुमार ¨सह, चंद्रदेव पासवान, राजेश मोदी, मुख्तार मियां, कामदेव ¨सह सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित हुए।

Posted By: Jagran