फोटो 23 जमुई 42

संवाद सूत्र, लक्ष्मीपुर (जमुई): प्रखंड मुख्यालय स्थित रेफरल अस्पताल में नवजात बच्चे को टीका दिलाने के दौरान एक एएनएम व आशा कार्यकर्ता के बीच मारपीट का मामला प्रकाश में आया। जिसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।

बताया जाता है कि दिग्घी पंचायत की आशा रिकू सिंह एक नवजात को बीसीजी का टीका दिलाने के लिए रेफरल अस्पताल आई थी। उन्होंने ड्यूटी पर मौजूद एएनएम कुमारी रंजना से नवजात को टीका देने का आग्रह किया। आशा का आरोप है कि बीसीजी का टीका देने के बदले एएनएम ने दो हजार रुपये नजराना की मांग की। रुपये नहीं देने की बात पर एएनएम उग्र हो गईं और बात इतनी बढ़ गई कि मारपीट तक पहुंच गई। दोनों एक दूसरे का बाल पकड़कर मारपीट करने लगी। मौके पर रेफरल अस्पताल में लोगों की भीड़ जुट गईं। घटना की सूचना वैक्सीनेशन टीम का निरीक्षण करने गए प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. डीके धुसिया को दी गई। सूचना मिलते ही वे रेफरल अस्पताल पहुंचे और मामले की छानबीन की। दोनों पक्षों से पूछताछ की गई। इस संबंध में एएनएम कुमारी रंजना ने बताया कि आशा द्वारा लगाया गया आरोप निराधार है। रविवार होने के कारण नवजात को टीका नहीं देने का प्रविधान है। फिर भी आशा टीका के लिए दबाव बना रही थी। मना करने पर मारपीट पर उतारू हो गईं। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कि दोनों का आवेदन लेकर मामले की जांच करने की बात कही। उन्होंने कहा कि दोषी के विरूद्ध विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran