जमुई। भीषण सर्दी और कोहरे का असर बिजली आपूर्ति पर पड़ रहा है। कोहरे के कारण 33 केवीए लाइन का इंसुलेटर पंक्चर होने की वजह से मंगलवार को सुबह से मुख्यालय सहित प्रखंड के गांवों में बिजली आपूर्ति ठप हो गई।

मजेदार बात तो यह है कि महज एक इंसुलेटर का पंचर ठीक करने में विभाग को पांच घंटे लग गए। लिहाजा करीब पांच घंटे से ज्यादा देर तक विद्युत आपूर्ति पूरी तरह से बंद रही और उपभोक्ता हलकान रहे। 33 केवीए लाइन में आए दिन फाल्ट आने से उपभोक्ता परेशान हैं। 33 केवीए विद्युत लाइनों में लगातार इंसुलेटर पंक्चर होने से प्रतिदिन कई सब स्टेशनों की आपूर्ति बाधित हो रही है। मंगलवार की सुबह मलयपुर से मुख्यालय तक की 33 केवीए लाइन का इंसुलेटर किउल नदी के निकट पंक्चर हो गया। जिसके कारण सुबह सात बजे से बिजली आपूर्ति बंद हो गई, जो दिन 12 बजे बहाल हो सकी। 33 केवीए बिजली तार में फॉल्ट होने से नगर परिषद क्षेत्र के शास्त्री कॉलोनी, वीआइपी कॉलोनी, पाटलिपुत्र कॉलोनी, वीर कुंवर सिंह कॉलोनी, महिसौड़ी महाराजगंज, पुरानी बाजार सहित नगर के अन्य क्षेत्रों में बिजली नहीं होने के कारण अधिकांश लोगों के घरों में पानी की समस्या उत्पन्न हो गई। घर में पानी नहीं होने क कारण लोगों के घरों में दैनिक कार्य बुरी तरह से प्रभावित रहा। विद्युत विभाग के सहायक अभियंता दिलीप कुमार ने बताया कि घने कोहरे होने के कारण 33 केवीए लाइन के इंसुलेटर पंक्चर होने से विद्युत आपूर्ति में बाधा आई है। विद्युत कर्मियों द्वारा पेट्रोलिग कर फाल्ट इंसुलेटर खोज विद्युत आपूर्ति बहाल कर दी गई। उन्होंने बताया कि कोहरे के कारण समस्या आ रही है। मौसम साफ होते ही स्थिति सामान्य हो जाएगी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप