जहानाबाद। जिले की स्थिति में सुधार को देखते हुए विकास योजनाओं को पुन: तेज करने के उद्देश्य से जिलाधिकारी नवीन कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित सभा कक्षा में जिले के विभिन्न विभागों के पदाधिकारियों के साथ बैठक की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने उपस्थित पदाधिकारियों से कहा कि हम सब मिल कर जिले में विकास की गति को और तेज करें। उन्होंने सभी पदाधिकारियों एवं कर्मियों को निर्देश दिया कि वे अपने कार्यों में संवेदनशीलता के साथ कार्य संस्कृति को बढ़ाने में लग जाएं।

बैठक में जिलाधिकारी ने पदाधिकारियों से कहा कि जिले में आई बाढ़, दुर्गा पूजा अवकाश तथा मूर्ति विसर्जन के दौरान तनाव की स्थिति के कारण लगभग 20 दिनों से विकास कार्य प्रभावित है। उन्होंने पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी विभाग के पदाधिकारी अपने विभाग से संबंधित कार्यों में तेजी लाएं ताकि जिले में फिर विकास की गति बढ़े। बैठक में मुख्य रूप से कृषि, आपदा, शिक्षा, जल-जीवन-हरियाली, सरकार के सात निश्चय कार्यक्रम अंतर्गत हर घर नल का जल, पक्की नली-गली, शौचालय निर्माण का भुगतान, चापाकल की मरम्मति, पंचायत सरकार भवन का निर्माण, पथ का निर्माण एवं मरम्मति विषय पर चर्चा की गई। इसके अलावा सामाजिक सुरक्षा से संबंधित योजनाओं की समीक्षा, जिले में भू-अर्जन की स्थिति, जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत आपूर्ति की स्थिति, खाद्यान्न उठाव तथा आपूर्ति की स्थिति, मद्य निषेध अंतर्गत छापामारी की स्थिति, अनुसूचित जाति अत्याचार के अंतर्गत कार्यों की समीक्षा, जिले में अनुसूचित जाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लिए छात्रावास की स्थिति की समीक्षा की गई। इस क्रम में सीसीटीवी फुटेज का निरीक्षण छात्रावास अधीक्षक को नियमित रूप से करने का निर्देश दिया। पशुओं की सुरक्षा, श्रमिक कल्याण से संबंधित कार्यों की समीक्षा सहित अन्य विभागों की समीक्षा विस्तार से की गई।

बैठक में जिले में जल जीवन-हरियाली अभियान से संबंधित टेंडर की स्थिति योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि मुखिया के साथ प्रखंड स्तरीय बैठक कर नवंबर तक योजना के टेन्डर लेने के लिए समीक्षा कर कार्य पूर्ण किया जाए। जिले में बाढ़ एवं सुखाड़ को देखते हुए प्रखंडवार प्रभावित परिवार तथा उन्हें दी जाने वाली सहायता की समीक्षा की गई। फसल सहायता योजना के अंतर्गत लगभग आठ हजार किसानों का निबंधन किया गया है।

सामाजिक सुरक्षा योजना से संबंधित योजनाओं में तेजी लाने का निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया है। बैठक में पेंशन योजनाओं, परवरिश योजना इत्यादि की समीक्षा की गई। जिले में विकास कार्यों के लिए भू-अर्जन की समीक्षा के अंतर्गत कार्य में तेजी लाने का निदेश दिया गया। एनएच.-83 के निर्माण के लिए भू-अर्जन की प्रक्रिया में तेजी लाने, भुगतान की स्थिति की समीक्षा की गई। मोदनगंज प्रखंड में मंडई बियर के कार्य में तेजी लाने के लिए गांव में अंचल अधिकारी को शिविर आयोजित करने का निर्देश दिया गया।

जन वितरण प्रणाली अंतर्गत आपूर्ति की समीक्षा के क्रम में अनाज का उठाव एवं वितरण, एलपीजी. वितरण की स्थिति, लाभुकों का आधार सीडिग इत्यादि कार्यों की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि फर्जी लाभुकों को हटाने तथा योग्य लाभुकों को सरकार की योजनाओं का लाभ देने में तेजी करें। जिला पशुपालन पदाधिकारी को जिला पदाधिकारी ने निदेश दिया कि वे बड़े-बड़े खटालों का निरीक्षण करें। पशु अस्पताल की स्थिति की समीक्षा तथा पंचायत स्तर पर विभागीय कार्यों का निरीक्षण कर प्रतिवेदन समर्पित करें। जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि विद्यालय तथा महाविद्यालय खुल गये हैं तथा शिक्षण कार्य चल रहें है। श्रम अधीक्षक को निर्देश दिया गया कि वे ईंट भट्ठे मालिकों के साथ बैठक कर उन्हें सरकार के नये निर्देशों से अवगत करा दें। बैठक में बताया गया कि लगभग 9300 श्रमिकों का निबंधन किया जा चुका है।

बैठक में सभी विभागों के संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप