जहानाबाद। पदभार ग्रहण करने के उपरांत कार्य की बागडोर संभालते हुए उपविकास आयुक्त मुकुल कुमार गुप्ता ने शनिवार को पहली बार संचालित योजनाओं की समीक्षा को लेकर बैठक आयोजित की। इस दौरान उन्होंने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सरकार प्रायोजित योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सभी लोग अपने आप में सुधार लाएं और कार्य के प्रति समर्पण की भावना जागृत करें। विकास भवन के सभागार में आयोजित बैठक में उन्होंने मनरेगा से जुड़े सभी कार्याें की समीक्षा की।

उपविकास आयुक्त ने कार्य में लापरवाही के आरोप में घोसी, काको के पीओ के अलावा एकाउंटेंट से स्पष्टीकरण पूछा है। इन पदाधिकारियों द्वारा अपने कार्यों के दायित्वों का निर्वहन ससमय सही ढंग से नहीं किया गया है। डीडीसी ने कर्मियों को 26 अक्टूबर के जल जीवन हरियाली योजना प्रारंभ होने से पहले अपने टारगेट को हर हाल में पूरा करने का निर्देश दिया। उन्होंने लंबित पड़े मजदूरों के मजदूरी पर असंतोष जाहिर करते हुए अतिशीघ्र भुगतान का निर्देश जारी किया है। उपविकास आयुक्त ने मजदूरों को आधार से संबंधित बैंक से समन्वय बनाकर उनकी समस्याओं को दूर करने का आह्वान किया। उन्होंने कर्मियों से महादलित टोले का भ्रमण कर छुटे हुए लोगों को जॉब कार्ड बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि भ्रमण के दौरान कर्मियों को यह ध्यान रखना होगा कि किसी घर में कोई जॉब कार्ड के लायक है वह छुटा तो नहीं है। उन्होंने लंबित योजनाओं को हर हाल में इस माह के अंत तक पूरा करने का निर्देश दिया। इस मौके पर एपीओ शोएब अख्तर,सौम्या कुमारी, उषा कुमारी, सहायक अभियंता अबलेश,सभी पीओ, पंचायत तकनीकी, कार्यपालक सहायक सहित सभी कर्मी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप