जहानाबाद।जिला कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ नेताओं ने भारत बंद को सफलता को लेकर भाजपा-जदयू कार्यकर्ताओं में हताशा कायम होने का आरोप लगाया है। पार्टी के जिलाध्यक्ष हरिनारायण द्विवेदी ने कहा कि गया जिले के मेन थाना क्षेत्र के बाला बिगहा निवासी प्रमोद मांझी की बेटी की मौत विलंब से अस्पताल लाने के कारण हुई थी। लेकिन भाजपा-जदयू के लोगों द्वारा यह आरोप लगाया गया कि बंद समर्थकों द्वारा उसकी गाड़ी को रोके जाने के कारण उसकी मौत हुई है। नेताओं ने कहा कि आम जनता के सहयोग से एतिहासिक बंद को लेकर सत्ता पक्ष के लोग घबरा गए हैं। वे लोग समझ गए हैं कि अब अगले लोकसभा चुनाव में सत्ता नहीं हासिल होने वाला है। बयान देने वालों में प्रवक्ता प्रो.भूषण कुमार ¨सह,कन्हाई शर्मा, नवीन शर्मा, प्रो.खलिल अंसारी, सुरेंद्र शर्मा, रामजी प्रसाद, रामचंद्र साव सोनी, राजू शर्मा, प्रो.योगेंद्र यादव, अवध पासवान, राहुल शर्मा, सुरेश चौधरी, अशोक प्रियदर्शी, वसीमूल हक रूस्तम तथा कैसर आलम रिजवी आदि लोग शामिल हैं।

Posted By: Jagran