जहानाबाद। महंगाई के खिलाफ कांग्रेस के आह़्वान पर प्रस्तावित भारत बंद का यहां व्यापक असर देखा गया। एक ओर जहां कांग्रेस कर्मियों ने जहानाबाद रेलवे स्टेशन पर एक घंटे तक जन शताब्दी एक्सप्रेस को रोक रखा। वहीं छात्र राजद समर्थकों ने जहानाबाद कोर्ट पर रेल ट्रैक पर आगजनी किया। जिसके कारण गया से आने वाली 63244 सवारी गाड़ी काफी विलंब से पहुंची। बंद की घोषणा के कारण व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में ताले लटके रहे जबकि सड़कों पर वाहनों का परिचालन नहीं हो सका। बंद का असर ऐसा था कि गैर सरकारी शैक्षणिक संस्थानों के ताले भी नहीं खुले। जबकि सरकारी विद्यालयों में भी इसका असर देखा गया। अन्य दफ्तरों में भी बंद के कारण लोगों की उपस्थिति प्रभावित हुई। रेलवे स्टेशन तथा बस स्टैंड में विरानगी पसरी रही। बंद की घोषणा के कारण यात्रियों को घोर कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। जहानाबाद रेलवे स्टेशन सहित कई प्रमुख जगहों पर चाय-पान की दुकानें भी नहीं खुली थी। टोलियों में बंटकर प्रदर्शन कर रहे थे बंद समर्थक कांग्रेस के आह्वान पर बंद की घोषणा तो की गई थी लेकिन इसमें सभी विपक्षी दल के लोग सक्रिय थे। सुबह से ही टोलियों में बंटकर कांग्रेस, राजद, माले, माकपा, भाकपा आदि दल के लोग सड़क पर उतर गए थे। राजद के विधायक कुमार कृष्णमोहन उर्फ सुदय यादव के साथ ही जिलाध्यक्ष मुजफ्फर हुसैन राही, हम के राष्ट्रीय महासचिव डॉ विरेंद्र कुमार ¨सह, राजद नेता परमहंस राय, कामेश्वर ¨सह, धर्मपाल यादव, डॉ शशि रंजन उर्फ पप्पु, वैकुंठ यादव, वकील यादव, बाल्मिकी शर्मा, तल्लु यादव, अलाउद्दीन राइन तथा अनिल पासवान सहित बड़ी संख्या में राजद समर्थक सड़क पर उतरे हुए थे। इधर पूर्व विधायक डॉ मुनिलाल यादव, डॉ सचिदानंद यादव के अलावा वंचित मोर्चा के छत्रधारी यादव, छात्र राजद के जिलाध्यक्ष शैलेश कुमार यादव, छोटू यादव, गजेंद्र यादव के नेतृत्व में भी बड़ी संख्या में उत्साही युवक सड़क पर उतरे हुए थे। माले के जिला सचिव श्रीनिवास शर्मा, रामबली यादव, डॉ रामाधार ¨सह, श्याम पांडेय, वसी अहमद, सत्येंद्र रविदास, प्रदीप कुमार, मुकेश पासवान, दयानंद प्रसाद, बीतन मांझी, दिनेश दास, अरूण ¨बद, करीमन दास, दिलीप ¨बद तथा शिवशंकर प्रसाद आदि लोग भी बड़े ही जोश खरोश के साथ सड़क पर उतरे हुए थे। भाकपा के जिला सचिव अंबिका प्रसाद, गिरिजानंदन प्रसाद ¨सह,चंद्रमणी प्रसाद, आफताब आलम कादरी तथा रफीक आलम, सीपीएम के दिनेश प्रसाद, रामप्रसाद पासवान, गिरानी साव, सुरेंद्र मिस्त्री, सूर्यकांत ¨सह, एसयूसीआई के जिला सचिव उमाशंकर वर्मा, राजू यादव, अमलेश कुमार तथा प्रिती कुमारी सहित बड़ी संख्या में लोगों ने बंद के समर्थन में प्रदर्शन किया। लंबे दिनों के बाद बंद को लेकर कांग्रेस समर्थकों में जोश खरोश एवं उत्साह देखा गया। पार्टी के जिलाध्यक्ष हरिनारायण द्विवेदी सहित सभी वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ता तो सक्रिय थे ही युवा नेता प्रवीण शर्मा के नेतृ़त्व में बड़ी संख्या में उत्साही युवक सड़क पर उतरे हुए थे। पार्टी नेता प्रो भूषण कुमार ¨सह, प्रो खलिल अंसारी, सुरेंद्र शर्मा, अजीत कुमार, कन्हाई शर्मा, नवीन शर्मा, वसीमूल हक रूस्तम, प्रो योगेंद्र यादव, रामजी प्रसाद, चंद्रिका मंडल, सरवर सलीम, अवध पासवान, रामचंद्र साव सोनी, अजय शर्मा, कैसर आलम रिजवी, कविता कुमारी, राहुल शर्मा, वैजनाथ शर्मा तथा आबिद मजीद इराकी के साथ ही कमलेश कुशवाहा आदि लोगों ने बंद के समर्थन में जोरदार प्रदर्शन किया। बाजार चट्टियों में भी दिखा बंद का असर : जिला मुख्यालय में तो बंद का असर दिखा ही प्रखंडों एवं बाजार चट्टियों में भी इसका व्यापक असर देखा गया। घोसी में जिला पार्षद रामदीप यादव, शकील खां, अजय कुमार, विकास कुमार, पवन किशोर, मिथिलेश यादव, संजय कुमार तथा विपीन यादव के नेतृत्व में सड़क जाम किया गया। इधर काको में सुरेंद्र यादव, विनय कुमार यादव, शशि कुमारी, अजीत मिस्त्री, विनय कुमार गोप, अल्ताफ हुसैन, महेंद्र यादव, भगवान यादव, नसीब लाल आदि लोगों ने प्रदर्शन किया। रतनी फरीदपुर में भी जगह-जगह पर टायर जलाकर सड़क जाम किया गया। अमैन, साहपुर, पंडौल मोड़ ,रतनी तथा खजूरबना में नौशाद आलम के नेत़ृत्व में प्रदर्शन किया गया। कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष अंबिका प्रसाद यादव के नेतृत्व में मोदनगंज प्रखंड में प्रदर्शन किया गया तथा धामापुर के समीप सड़क जाम किया गया।

Posted By: Jagran